जागरण संवाददाता, मीरजापुर : दीपावली व छठ पूजा को देखते हुए लंबी दूरी के लिए किसी भी ट्रेन में कंफर्म बर्थ नहीं मिल पा रहा हैं। इससे यात्रियों को अपने घर आने के लिए तत्काल टिकटों का सहारा लेना पड़ रहा है। लेकिन वर्तमान समय में तत्काल टिकट भी नहीं मिल पा रहा है। इसके लिए उन्हें मारा मारी करनी पड़ रही है। मजबूरी में वे जनरल बोगियों में ही सफर करने के लिए मजबूर हैं। हालांकि जाने के लिए अभी बर्थ मिल रहा है। यह समस्या नवंबर तक चलेगी।

त्योहार कोई भी हो परदेश में रहने वाला हर कोई व्यक्ति घर लौटना चाहता है। इसके लिए पहले से ही इंतजाम करने लगता है। अधिकांश यात्री ट्रेनों से घर लौटने के लिए टिकटों की बुकिग कराना शुरू कर देते हैं। मुंबई, दिल्ली, सूरत तथा पुणे में यूपी बिहार के सबसे अधिक लोग रहने के कारण अधिकांश ट्रेनों की टिकट दो महीने पहले ही बुक करा लिए जाते हैं। जिससे उनको त्योहार नजदीक आने पर वापस आने के लिए किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। इससे ट्रेनों में बर्थ मिलना मुश्किल हो जाता है। जो यात्री पैसे के अभाव में टिकट बुक नहीं करा पाते हैं उनको भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कुछ ऐसा ही हाल समय का है। लंबी दूरी की किसी भी ट्रेन में उनको कंफर्म बर्थ नहीं मिल पा रहा है। इनसेट

किसमें कितना चल रहा है वेटिग

महानगरी में 350

पटना कुर्ला 300

गुवाहाटी कुर्ला 320

मुंबई मेल 300

ताप्तीगंगा में 310

पुरूषोत्तम एक्सप्रेस में 200

ब्रह्मपुत्र मेल में 350

मगध में 250

कालका मेल 350

मूरी एक्स्प्रेस 300

क्षिप्रा एक्सप्रेस 250

वर्जन

मुंबई, सूरत, दिल्ली आदि स्थानों के लिए आने वाली ट्रेनों में बर्थ नहीं मिल पा रहा है। जाने के लिए मिल रहा है लेकिन उसमें भी वेटिग है, नवंबर के बाद बर्थ मिलने लगेगा।

-सीबी सिंह मुख्य टिकट पर्यवेक्षक

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप