जासं, मीरजापुर : पड़री थानाक्षेत्र के माधोपुर गांव निवासी प्रदीप तिवारी ने आरोप लगाया कि प्रधान द्वारा गांव के विकास कार्यों में भारी अनियमितता की गई।शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार मिलते हैं लेकिन प्रधान में पांच हजार खर्च कर घटिया किस्म के शौचालय बनवाए और लाभाíथयों से पूरा पैसा ले लिया। वहीं आवास योजना का लाभ भी उन्हें दिलाया गया जो इसके लिए पात्र नहीं है। जबकि जो पात्र हैं वे आज भी झोपड़ी या कच्चे मकानों में रहने के लिए मजबूर हैं। ग्रामीणों ने सोमवार को जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर मामले की जांच की मांग की है। उनका आरोप है कि गांव में नाली, खडंजा, चकरोड, नाली निर्माण आदि कार्य कागज पर किए गए हैं। ज्ञापन देने वालों में प्रदीप तिवारी, हृदय नारायण पांडेय, अमरनाथ, डाके, सोती आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस