जागरण संवाददाता, जमुआ (मीरजापुर) : मझवां विकास खंड के गांवों में केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण सौभाग्य योजना के तहत कराए जा रहे कार्य को चुनाव से पहले आदर्श आचार संहिता लगने पर कार्य को अधूरा छोड़ दिया गया था। वही लोक सभा चुनाव कई माह बितने के बाद भी अभी तक कार्य चालू नहीं कराया गया। जिससे साबित होता है कि विद्युत विभाग सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को ठंडे बस्ते में डालकर इतिश्री कर लिया है। क्षेत्र के लोगों ने योजना के तहत कराए जा रहे कार्य को पुन: चालू कराकर हर घर को रोशन करने की मांग की है।

क्षेत्र के लोगों का आरोप है कि ठेकेदार द्वारा बिना केबल खींचे पोल गाड़कर तथा कही पर पोल को जमीन पर ही छोड़कर एनसीसी कंपनी के लोकल कांट्रेक्टर ब्रदर्स ग्रुप के ठेकेदार कार्य को बिना पूर्ण किए ही काम को बंद कर दिया। आरोप लगाते हुए बताया कि यही नहीं कही-कही तो एक ही परिसर पर पूर्व सरकार की राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना के तहत मीटर को लगाने के बाद पुन: उसी परिसर पर कागजी कोरम को पूर्ण दिखाने के चक्कर में ठेकेदार ने दूसरा मीटर भी लगवाकर उपभोक्ता का फोटो खींचकर कार्य को पूर्ण दिखाने की कोशिश की गई। जिला पंचायत सदस्य महेंदर ने जब ठेकेदार से फोन पर ग्राम सभा चकिया निगतपुर, महमालपुर, गोतवा, गोरही, नरायनपुर आदि गांवों में अभी तक कार्य पूरा नहीं होने से कुछ गांवों में कार्य अधूरा होने की शिकायत की तो ठेकेदार ने सीधा केबल नहीं होने की बात को कहकर फोन रख दिया। जिससे महसूस होता है कि अब यह योजना ठंडे बस्ते में चला गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप