जागरण संवाददाता, मीरजापुर: कई दिनों से हो रही लगातार बारिश से नगर में चतुर्दिक जलजमाव हो गया है। कई जगह तो ऐसे हो गए हैं जहां चलना खतरे को निमंत्रण देना है। कई लोग गिरकर घायल भी हो गए हैं।

नगर में कई दिनों से हो रही लगातार बारिश का कहर आम नागरिकों पर पड़ने लगा है। नालियां तो पहले से ही ओवर फ्लो हो रही थी। वार्षिक सफाई न होने के कारण उनसे पानी की निकासी पहले से ही बाधित थी। रही- सही कसर लगातार बारिश ने पूरी कर दी। सुरेकापुर में तो लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया। कई जगह कमर तक पानी आ गया। इसी के ठीक पहले पड़ने वाली मलिन बस्ती में तो कीचड़ ने वह हालत कर दी कि जो घर से निकला वह गिरा। यही दशा वैष्णोपुरम कालोनी में भी रही। लोहिया तालाब के गंगा दर्शन कालोनी में भी आधी अधूरी सड़क बनाकर नागरिकों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी गई है। इस सड़क की वजह से दो- चार घरों को छोड़कर शेष नागरिकों के घर जाने वाले रास्ते पूरी तरह पानी से डूब गए हैं। इस सड़क का पानी भी उसी जगह जाकर डंप हो रहा है। अब समस्या यह है कि नागरिक निकले तो कैसे निकलें। नगर पालिका नहीं कर रही काम

सुरेकापुरम के लालता ने कहा कि यहां की जलजमाव की समस्या बहुत पुरानी है लेकिन अभी तक इस पर कोई काम नहीं किया गया। वैष्णोपुरम के जगदीश ने कहा कि हर बार बरसात में यही स्थिति होती है लेकिन मिलता है सिर्फ आश्वासन ही। इसी प्रकार लोहिया तालाब के अशोक व राकेश ने भी इस बात पर ¨चता जताई कि वह घर से कैसे निकलेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप