Move to Jagran APP

मीरजापुर में Heatwave का कहर जारी, तीन दिन में 35 लोगों ने गंवा दी जान; गर्मी व लू लगने से अधिकतर मौत होने की आशंका

पिछले तीन दिनों से लगातार लोगों की मौत हो रही है। प्रतापपुर के रहने वाले जाेगेश कुमार की गुरुवार की लू लगने से मौत हो गई थी। वह कचहरी किसी काम से आए थे। इसी दौरान अचेत होकर गिर गए। अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था। वहीं चुनार के शिवशांकरीधाम मंदिर के पास एक अज्ञात व्यक्ति की इसी दिन लू लगने से मौत हुई।

By Prashant Kumar Yadav Edited By: Riya Pandey Sun, 02 Jun 2024 08:11 PM (IST)
मीरजापुर में Heatwave का कहर जारी, तीन दिन में 35 लोगों ने गंवा दी जान; गर्मी व लू लगने से अधिकतर मौत होने की आशंका
मीरजापुर में Heatwave से तीन दिन में 35 लोगों ने गंवा दी जान

जागरण संवाददाता, मीरजापुर। जिले में तीन दिनों के अंदर बढ़ती गर्मी, लू लगने सहित अन्य कारणों से 35 लोगों को मौत हो गई। इसमें से चुनाव ड्यूटी में लगे लगभग 18 कर्मचारियों सहित 24 अन्य लोगों की मौत हुई। शेष लोगों की दुर्घटना समेत अन्य कारणों से मौत होना बताया जा रहा है।

कहा जा रहा है कि लोगों की ओर से सावधानी नहीं बरती जा रही जिसके चलते वह लू की चपेट में आकर मृत हो रहे हैं। हालांकि चिकित्सकों ने कहा कि गर्मी के चलते लोगों के ब्लड प्रेशर व शुगर बढ़ रहे हैं। इससे उनकी मौत हो जा रही है।

30 मई को आठ की मौत

पिछले तीन दिनों से लगातार लोगों की मौत हो रही है। प्रतापपुर के रहने वाले जाेगेश कुमार की गुरुवार की लू लगने से मौत हो गई थी। वह कचहरी किसी काम से आए थे। इसी दौरान अचेत होकर गिर गए। अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था।

30 मई को ही चुनार के शिवशांकरीधाम मंदिर के पास एक अज्ञात व्यक्ति की इसी दिन लू लगने से मौत हुई। उसका शव वहीं मंदिर के पास मिला था। गुरुवार को वहीं चुनाव ड्यूटी में आए गोंडा के शहर कोतवाली के बड़ागांव के रहने वाले होमगार्ड्स अरूण कुमार श्रीवास्तव की भी 30 मई को लू लगने से अचानक तबीयत खराब हो गई। उन्हें मंडलीय चिकित्सालय लाया गया। जहां उनकी मौत हो गई थी। वे भरूहना जीडी बिनानी में रुके थे।

लू लगने से एक भिखारी की हो गई थी मौत

30 मई को पटेहरा ददरी बंधी के पास पिंटू कुमार निवासी मांडा प्रयागराज का इसी दिन शव मिला था। वह दीपनगर पटेहरा में मांगने खाने के लिए आया था। उसकी भी लू लगने से मौत होने की आशंका जताई थी। 30 को ही लालगंज के पतार कला प्राथमिक विद्यालय के एक पास लू लगने से एक भिखारी की मौत हुई थी।

बीते गुरुवार को ट्रेन में यात्रा के दौरान दो लोगों जंगू निवासी महाराष्ट व शीला देवी निवासी बिहार की तबीयत खरब होने से मौत हो गई थी। 30 मई के दिन ही सीखड़ में घाट किनारे एक महिला का शव मिला था।

31 मई को 24 की गई जान

जिले में 31 मई शनिवार को जिले में भीषण गर्मी थी। इसके चलते सात होमगार्डस गोंडा के बच्चा, रामजियावन, बस्ती के सत्य प्रकाश, प्रयागराज के त्रिभुवन सिंह, कौशांबी के रामकरन, मीरजापुर संडवा के कृष्णकांत अवस्थी, मीरजापुर के काशीनाथ, गाेंडा के प्रयाग नरायण , सफाई कर्मी हरिओम, सफाई कर्मी चील्ह के रविंद्र पांडेय, सफाई कर्मी चुनार के रवि प्रकाश, अभिलाश शर्मा, सीएमओ के बाबू शिवपूजन श्रीवास्तव, चकंबंदी सीओ उमेश कुमार, होमगार्डस अविनाश पांडेय, एक अज्ञात तथा रेलवे स्टेशन परिसर के पास मिले तीन लोगों के शव के अलावा भरूहना के राधे, लालगंज की अनीता सहित कुल 24 लोगों की मौत हो गई थी।

एक जून तीन की गई जान 

एक जून को तीसरे दिन एक सफाई कर्मी उमाशंकर निवासी इमामबाड़ा कटरा कोतवाली नामक सफाई कर्मी की मौत हो गई थी। जिनकी ड़्यटी पालिटेक्निक में लगी थी। इसी प्रकार मझवां में चुनाव ड्यूटी में लगे चील्ह के खुलुआ गांव के रहने वाले सफाई कर्मी लाल बहादुर यादव की गर्मी से मौत हो गई। इसके साथ की गाजीपुर के दसरा गांव के रहने वाले जितेद्र यादव की लागलंज में लू लगने से मौत हो गई। जितेंद्र यादव डीजल का टैंकर चलाते थे। जिगना में मतदान करने आए एक वृद्ध की मौ हो गई थी।

मेडिकल कालेज प्राचार्य डा. आरबी कमल के अनुसार, गर्मी के दिनों लोग सावधानी बरतें। जरूरत हो तभी अपने घरों से बाहर निकलें। पानी का सेवन अधिक करें। गमछे से चेहरे व सिर को ढके रहे। पूरी आस्तीन के कपड़े पहने। धूप में आने के बाद कुछ देर आराम कर ले फिर पानी पीए। मंठा, पना, नीबू पानी, रसदार फल आदि का सेवन अधिक करें।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. सीएल वर्मा का कहना है कि 31 मई को तापमान बढ़ा था इससे यहां पर अभी तक कुल 16 लोगों की मौत हुई है। इसमें चुनाव में ड्यूटी में आए होमगार्ड्स सहित अन्य कर्मचारी है। शेष लोगों की मौत अन्य कारणों से हुई है।