मीरजापुर : डाक विभाग से अधार कार्ड उपभोक्ताओं तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। इस कारण लोग काफी परेशान हैं। मजबूरी में लोगो को अतिरिक्त धन खर्च कर इंटरनेट से आधार कार्ड निकलवाना पड़ता है। सरकार ने आधार कार्ड को महत्वपूर्ण दस्तावेज बना दिया है। चाहे बैंक का खाता खोलना हो या फिर अन्य कोई काम। हर जगह आईडी प्रूफ, वोटरआईडी के साथ आधार कार्ड की मांग है। बगैर

आधार कार्ड के बैंकों में खाता नहीं खुल रहा है। इसी तरह अन्य सरकारी काम के लिए भी आधार कार्ड आवश्यक है। आधार कार्ड बनवाने के लिए जगह-जगह कैंप लगाकर लोगों का पंजीकरण कर रसीद दी जाती है। इसके एवज में 25 से पचास रुपये

वसूला जाता है। कार्ड के लिए कहा जाता है कि एक महीने बाद डाक से घर पहुंच जाएगा। उपभोक्ता कार्ड का इंतजार करते रह जाते हैं। डाक विभाग का इंतजार करने के बाद मजबूरी में लोग इंटरनेट से आधार कार्ड निकलवा रहे हैं। इसके एवज में उनको बीस से पचास रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं। आरोप है कि आधार कार्ड प्रधान डाकघर में धूल फांक रहे हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021