बागपत, जेएनएन। बागपत जिले के छपरौली में पुलिस ने रठौड़ा गांव के प्रियंका हत्याकांड का राजफाश करते हुए रविवार को उसके पति को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में पता चला कि प्रेमी से बातें करने के शक में ही पति ने उसकी हत्‍या कर दी। सीओ आलोक सिंह ने बताया कि ऊन, शामली की रहने वाली प्रियंका की शादी चार साल पहले रठौड़ा गांव में सुनील के साथ हुई थी। शनिवार को गांव से सूचना मिली कि एक महिला की उसके पति ने हत्या कर दी है और शव घर में ही पड़ा है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा तो घर के अंदर बेड पर शव पड़ा था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और संदेह के आधार पर उसके पति सुनील को हिरासत में ले लिया था।

आरोपित से गहन पूछताछ के बाद सीओ ने बताया कि सुनील को शक था कि उसकी पत्नी के किसी से अवैध संबंध है और वह छुपकर अपने प्रेमी से फोन पर बातें करती है। इसी को लेकर लगभग डेढ़ साल पहले भी वह अपनी पत्नी प्रियंका के पास से एक फोन बरामद कर उसे तोड़ चुका था। तब प्रियंका ने सुनील की पिटाई कर दी थी। उसके बाद प्रियंका ने एक छोटा फोन ले लिया और अपने प्रेमी से बातें करती रही।

गुरुवार को भी सुनील ने प्रियंका को फोन पर प्रेमी से बात करते हुए पकड़ लिया। उसने इसका विरोध किया, तो प्रियंका ने सुनील की फिर पिटाई कर दी। इस बात से सुनील बहुत बेइज्जती महसूस करने लगा और उसने अपनी पत्नी की हत्या करने की ठान ली। शनिवार सुबह जब प्रियंका सो रही थी, तो सुनील ने रस्सी से उसका गला दबा दिया, जिसके बाद प्रियंका की मौत हो गई। सुनील ने प्रियंका के स्वजन को उसके द्वारा आत्महत्या करने की सूचना दी, लेकिन पूछताछ में घटना का राजफाश हो गया। आरोपित सुनील पुत्र हरदास निवासी रठौड़ा को पत्नी की हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज कर न्यायालय पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Edited By: Prem Dutt Bhatt