जागरण संवाददाता, मेरठ: नगर निकाय चुनाव के लिए वार्डों के आरक्षण का प्रस्ताव जारी कर दिया गया है। अब चुनाव से संबंधित तैयारियों को तेजी से पूरा किया जा रहा है। इस बार राज्य निर्वाचन आयोग ने महापौर, अध्यक्ष व सभासदों के लिए चुनाव चिह्न के रूप में आवंटित होने वाले चिह्न की संख्या में वृद्धि भी की है। पहले 164 निशान आवंटित किए जाते थे, इस बार 197 चुनाव चिह्न सूची में शामिल किए गए हैं। 

नगर निगम, पालिका और नगर पंचायतों में होने वाले चुनाव को लेकर स्थानीय स्तर पर तैयारियों को पूरा करने के साथ प्रत्याशियों को आवंटित होने वाले प्रतीक चिह्न की सूची भी जिला प्रशासन को प्राप्त हो गई है। इस बार 33 प्रतीक चिह्न अधिक बढ़ाए गए हैं। 

मतदाताओं को मतदान के दौरान आसानी से प्रतीक चिह्न समझ में आएं, इसके लिए घरेलू वस्तुओं के साथ फल और सब्जियों को भी चिह्न के रूप में शामिल किया गया है। इसके अलावा खेल, बुलडोजर से लेकर सिरिंज व पेट्रोल पंप को भी निशान के रूप में शामिल किया गया है।

फल व सब्जी भी बने चुनाव निशान

केक, हरी मिर्च, शिमला मिर्च, डबल रोटी, बिस्किट, फलों की टोकरी, अंगूर, आइसक्रीम, भिंडी, कटहल, नाशपाती, मटर, मूंगफली, अदरक आदि निशान आवंटित किए जाएंगे।

बुलडोजर और हेलीकाप्टर भी दिखेंगे

सीसीटीवी, माउस, कंप्यूटर, शतरंज, डिश एंटिना, डीजल पंप, ड्रिल मशीन, कैल्कुलेटर, ब्रेड टोस्टर, साइकिल पंप, टार्च, बेल्ट, ग्रामोफोन, हेड फोन, हेलीकाप्टर, लैपटाप, लाइटर, माइक मिक्सी, पेट्रोल पंप, रोड रोलर, रोबोट, रूम कूलर, रूम हीटर, रबर की मुहर, क्रिकेट स्टंप, स्विच बोर्ड, सिरिंज, टीवी रिमोट आदि भी ईवीएम पर नजर आएंगे।

घरेलू सामान भी सूची में शामिल

चप्पल, प्लायर, हीरा, कान की बाली, कैरम बोर्ड, हेलमेट, लेडी पर्स, गले की टाई, नेलकटर, पैंट, कढ़ाही, प्रैशर कुकर, रेजर, तकिया, मोजे, शटर, साबुनदानी, टेंट और टाफी को भी चिह्न बनाया गया है।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट