मेरठ, जेएनएन। यूपी बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों पर छात्रों को बैठाने के लिए मिक्सिंग प्लान तैयार किया है। हर परीक्षा केंद्र पर एक से अधिक स्कूलों के छात्र-छात्रओं का केंद्र बनाया गया है। अधिकतम 23 विद्यालयों के परीक्षार्थियों का केंद्र डीएन इंटर कालेज है। इसी तरह जिले में बने 116 परीक्षा केंद्रों पर विभिन्न स्कूलों के बच्चे परीक्षा देने पहुंचेंगे। मिक्सिंग प्लान के अंतर्गत किसी भी कक्ष में एक ही स्कूल के छात्र-छात्रओं को बैठने की अनुमति नहीं होती है, बल्कि विभिन्न स्कूलों के परीक्षार्थियों को हर कक्ष में बैठाया जाता है।

ऐसे काम करता है मिक्सिंग प्लान : बोर्ड परीक्षा में मिक्सिंग प्लान नकल रोकने के लिए तैयार किया गया है। इसमें हर कमरे में अलग-अलग स्कूलों के छात्रों को सीटिंग प्लान में शामिल किया जाता है। यह प्लान परीक्षा केंद्र तैयार करते हैं। बोर्ड मुख्यालय से परीक्षा केंद्रों पर स्कूलवार छात्र-छात्रओं के आवंटन की सूची भेजी जाती है। सीटिंग प्लान में भिन्न स्कूलों के छात्रों को मिलाकर एक कमरे का प्लान तैयार किया जाता है। एक-दूसरे से अनजान होने के कारण छात्रों में आपसी बातचीत कम ही होती है।

बिना पहचान पत्र शिक्षकों को भी नो-एंट्री : परीक्षा केंद्रों पर बालक-बालिकाओं की सीटिंग प्लान तैयार कर कक्ष निरीक्षकों का रजिस्टर बनेगा। ड्यूटी पर देर से आने वाले शिक्षक व कर्मचारी अनुपस्थित माने जाएंगे। अनुपस्थित शिक्षकों की सूचना अविलंब जिविनि कार्यालय को देनी होगी। हर शिक्षक व कर्मचारी के पहचान पत्र पर जिविनि के हस्ताक्षर कराने होंगे। बिना पहचान पत्र के परीक्षा में ड्यूटी देने पहुंचने वाले शिक्षकों व कर्मचारियों को केंद्र में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। परीक्षा में उपस्थित अनुपस्थित की सूचना यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर उसी दिन अपलोड करनी होगी।

सूचना अपलोड नहीं तो शिक्षकों को भुगतान नहीं : जिविनि गिरजेश कुमार चौधरी के अनुसार परीक्षा केंद्रों पर नियुक्त केंद्र व्यवस्थापकों, कक्ष निरीक्षकों एवं लिपिक आदि परीक्षा कार्य में लगे कर्मचारियों का विवरण परिषद की वेबसाइट पर उनके खाते सहित अपलोड करना अनिवार्य है। साथ ही हर दिन उपस्थिति की सूचना भी जाएगी। परीक्षा केंद्रों पर केंद्र व्यवस्थापकों, कक्ष निरीक्षकों व अन्य कर्मचारियों की उपस्थिति के अनुसार ही परीक्षा से संबंधित मानदेय का भुगतान होगा।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप