मेरठ, जेएनएन। Unlock Meerut News मेरठ में ढाई माह से अधिक के लंबे अंतराल के बाद शहर के बाजार सोमवार रात में जगमग होंगे। रात नौ बजे दुकानें खुलने से व्यापारी उत्साहित हैं। मुख्य बाजारों के संगठनों ने कोरोना से बचाव के लिए दुकानदारों को गाइडलाइन का अनुपालन सख्ती से करने के निर्देश दिए हैं। हालांकि अभी प्रशासन का कहना है कि उन्हें शासन का निर्देश नहीं मिला है। जैसे ही शासनादेश मिलता है, मेरठ के मुताबिक व्यवस्था बना दी जाएगी।

बाजारों में अब बढ़ेगी रौनक

अभी तक जनपद के बाजार शाम सात बजे बंद हो रहे थे। व्यापारियों का तर्क था इससे नौकरी पेशा वर्ग के लोग बाजारों में खरीददारी के लिए नहीं निकल पा रहे थे। अब बाजारों में रौनक बढऩे की उम्मीद जताई जा रही है। आबूलेन व्यापार संघ ने दुकानों पर बिना मास्क के किसी भी ग्राहक को प्रवेश न करने का संदेश इंटरनेट मीडिया के माध्यम से दिया है। आबूलेन व्यापार संघ के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह ने बताया कि दुकानदारों को शारीरिक दूरी का पालन कराने की अपील की गई है। सदर व्यापार मंडल के अध्यक्ष सुनील दुआ और महामंत्री अमित बंसल ने शिव चौक से सदर सर्राफा तक बाजार में ई रिक्शा के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। इसके लिए सदर थाने की पुलिस से भी व्यापारी रविवार को मिलेंगे।

कोविड गाइडलाइन का होगा अनुपालन

बाजार में कोरोना गाइड लाइन का अनुपालन करने के लिए लाउडस्पीकर से उद्घोषणा की व्यवस्था की गई है। बेगमपुल व्यापार संघ के पूर्व महामंत्री पुनीत शर्मा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर से दर्जनों व्यापारी दिवंगत हुए हैं। तीसरी लहर का अंदेशा बना हुआ है इसलिए व्यापारियों को अपनी और स्टाफ की सुरक्षा के लिए खुद जागरूक रहने की जरूरत है। कहा दुकानों में उतने लोगों को प्रवेश दें जिससे शारीरिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित हो सके।

सोमवार की साप्ताहिक बंदी लागू हो

रविवार और शनिवार को सरकारी और निजी संस्थानों में अवकाश होता है। सप्ताहांत पर लोग भी घरों से बाहर निकलने और शापिंग का प्लान बनाते हैं। शास्त्रीनगर जागृति विहार व्यापार संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विजय गांधी ने कहा कि अब केवल एक दिन सोमवार की साप्ताहिक बंदी होनी चाहिए। दो दिन की बंदी से व्यापार का फ्लो बाधित हो रहा है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt