मुजफ्फरनगर, जेएनएन। पश्चिम बंगाल में चुनावी रणभेरी बजने लगी है। ऐसे में भाजपा हाईकमान ने अपने सप्तऋषि मंडल में केंद्रीय मंत्री डा. संजीव बालियान को अहम जिम्मेदारी दी है। बालियान अब वहां के पांच लोकसभा क्षेत्रों की 40 विधानसभा सीटों पर कमल खिलाने की जुगत में जुट गए हैं। चुनावी अभियान में जुटे डा. बालियान ने रविवार को दूरभाष पर बताया कि पश्चिम बंगाल की जनता बदलाव चाहती है। इस बार सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है और बागडोर भाजपा के हाथ में होगी।

भाजपा ने पश्चिमी बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए स्पशेल टीम-7 तैयार की है। इस टीम में केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बलियान को भी अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहां के पांच लोकसभा क्षेत्रों में उन्हें पार्टी की ओर से प्रचारक की कमान सौंपी गई है। इनमें जानगीपुर, बहारमपुर, मुर्शीदाबाद, कृष्णानगर और रानाघट लोकसभा क्षेत्र की 40 विधानसभा सीटों पर डा. बालियान के कार्यक्रम रखे गए हैं। सप्ताह में कम से कम चार दिन उनके कार्यक्रम रहेंगे। चुनावी अभियान की शुरुआत में उन्होंने किसानों की खुशहाली को फोकस में रखा है। डा. संजीव बालियान ने बताया कि पश्चिम बंगाल में चुनावी कार्यक्रम शुरू हो गए हैं। वर्तमान राज्य सरकार से जनता नाखुश है, और परिवर्तन चाहती है। तृणमूल कांग्रेस ने जनता से जो वादे किए थे, वह पूरे नहीं किए गए। सांसद और विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस ही नहीं, वाम और कांग्रेस के कई नेता भी भाजपा में शामिल हुए हैं।

उन्होंने बताया कि बीते दिनों भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के वाहन पर असामाजिक तत्वों ने पथराव किया। यह सत्ताधारी दल की बौखलाहट थी, जिसे जनता समझ गई है। उन्होंने बताया कि हाल ही में जब वो कोलकाता गए थे, वहां लोगों ने जर्मजोशी से उनका स्वागत किया। किसानों ने अनेक समस्याएं रखीं। कृषि सुधार कानून के बारे में किसानों को विस्तार से बताया गया। प्रगतिशील किसान भी कृषि कानून का समर्थन कर रहे हैं। तीनों कानून अन्नदाता की आय बढ़ाने में सहायक होंगे।

कई और बड़े चेहरे संपर्क में

डा. संजीव बालियान बताते हैं कि पश्चिम बंगाल के दिग्गज नेता सुवेंदु अधिकारी समेत कई नेता भाजपा में शामिल हुए हैं। अभी कई और नेता भाजपा का दामन थामने को तैयार हैं। इससे तृणमूल समेत दूसरे दलों में भारी बेचैनी है। विधानसभा चुनाव में कमल का खिलना तय है। डा. संजीव बालियान ने बताया कि अभी आगाज है, कई और बड़े चेहरे संपर्क में हैं। इस बार पश्चिम बंगाल की जनता परिवर्तन के मूड में हैं, कोलकाता में कमल खिलकर रहेगा। 

Edited By: Taruna Tayal