मेरठ, जेएनएन। बेकाबू कार ने पीवीएस रोड पर कोहराम मचाया। पहले सामने से आ रहे स्कूटी सवार को टक्कर मारी। उसके बाद बेक दौड़कर बाइक सवार को कुचल दिया। घायल अवस्था में चारों युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया। इसी बीच मौका पाकर कार भाग निकला। रविवार को नौचंदी थाना क्षेत्र में पीवीएस रोड पर शेरगढ़ी निवासी पिन्नी और कूटी चौराहा निवासी अर्चित को टक्कर मार दी। टक्कर मारने के बाद चालक ने कार को पीछे दौड़ा दिया। पीछे से आ रहे बाइक सवार नोमान निवासी करीम नगर और सरीन निवासी ईदगाह को कुचल दिया।

हादसे की सूचना पर पहुंचे परिजन

दोनों बाइक पर सवार होकर पीवीएस पर मूवी देखने जा रहे थे। घायल चारों युवकों को पुलिस की मदद से अलग अलग अस्पताल में भर्ती कराया। इसी बीच मौके से कार सवार भाग गया। हादसे की सूचना मिलने के बाद परिवार के लोग भी मौके पर पहुंच गए। अस्पताल में घायलों को उपचार दिलाने के बाद घर ले गए। हादसा स्थल मेडिकल और नौचंदी थाना क्षेत्र की सीमा पर था। इसलिए दोनों थानों की पुलिस एक दूसरे क्षेत्र में घटना बता रही थी। बाद में नौचंदी इंस्पेक्टर ने तहरीर लेकर कार की तलाश कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

सेना के ट्रक से ऑल्टो क्षतिग्रस्त

वहीं दौराला थानाक्षेत्र हाईवे स्थित भराला गांव के कट पर रविवार को सेना के ट्रक से ऑल्टो कार क्षतिग्रस्त हो गई। कार में सवार दिल्ली निवासी युवक घायल हो गया। वहीं सेना के ट्रक का फुटरेस्ट और अन्य सामान टूट गया। हादसे के बाद हाईवे पर लंबा जाम लग गया। यूपी-100 पुलिस मौके पर पहुंची और कार को सड़क किनारे किया, जिसके बाद जाम खुल सका। दिल्ली निवासी अर्चित अपनी ऑल्टो कार से रविवार को हरिद्वार से स्नान कर वापस दिल्ली जा रहा था। हाईवे पर भराला गांव कट के पास सामने जा रहे सेना के दो ट्रक को अर्चित ओवरटेक करने लगा।

दुर्घटना के बाद वाहनों की लगी कतार

इसी बीच अर्चित का स्टेयरिंग से नियंत्रण हट गया और कार सेना के ट्रक के बंफर से टकरा गई। ट्रक ड्राइवर ने तेजी से ब्रेक लगा दिए। मगर, कार की साइड पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे के बाद ट्रक के पीछे चल रही सेना की चार, पांच अन्य गाड़िया भी रुक गई। बताया गया कि सेना के सभी ट्रक हरिद्वार से मेरठ छावनी जा रहे थे। वाहनों की कतार लग गई। राहगीरों ने हादसे की सूचना कंट्रोल रुम को दी, जिसके बाद यूपी-100 पुलिस मौके पर पहुंची और कार साइड में लगायी। जिसके बाद पुलिस ने वाहनों को वहां से निकलवाया। एसओ दौराला धर्मेंद्र सिंह राठौर का कहना है कि थोड़ी देर में ही दोनों पक्षों में फैसला हो चुका था, थाने में कोई भी पक्ष नहीं आया। 

Posted By: Prem Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप