मेरठ,जेएनएन। सुभाष नगर नाले की सफाई और नाले की टूटी दीवारों का निर्माण न होने से परेशान वार्ड 29 के पार्षद पवन चौधरी ने आत्मदाह की चेतावनी दी है। नगर निगम परिसर में नगर आयुक्त मनीष बंसल को ज्ञापन सौंप कर इससे अवगत करा दिया है।

ज्ञापन में पार्षद पवन चौधरी ने कहा है कि नगर निगम ने अवस्थापना निधि, 14 वां व 15 वां वित्त में सुभाष नगर नाले को शामिल नहीं किया है। नगर आयुक्त को बताया कि पहले भी वह आत्मदाह का प्रयास कर चुके हैं। कई बार भूख हड़ताल पर बैठ चुके हैं। लेकिन इसके बाद भी नाला सफाई नहीं कराई जा रही है। पार्षद पवन चौधरी ने चेतावनी दी है कि अगर नौ अगस्त तक नगर निगम अधिकारियों ने सुभाष नगर नाले की सफाई सुनिश्चित नहीं की तो वह 10 अगस्त को नगर निगम में भूख हड़ताल पर बैठेंगे। फिर भी मांगों को अनसुना किया गया तो अगली बोर्ड बैठक के दौरान नगर निगम परिसर में नगर आयुक्त व महापौर कार्यालय के बाहर आत्मदाह करने को मजबूर होंगे। पार्षद का कहना है कि सुभाष नगर नाला कचरे व सिल्ट से चोक है। नाले में मशीन जा नहीं सकती है। नगर निगम ने मैनुअल सफाई भी नहीं कराई है। जिससे बारिश के दौरान जलभराव की स्थिति बन रही है।

पिछले टेंडर के कार्य जल्द करें पूरा : जिपं अध्यक्ष: जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चौधरी ने गुरुवार को ठेकेदारों की बैठक ली। उन्होंने ठेकेदारों को पिछली जिला पंचायत के समय में हुए टेंडर के कार्य को जल्द से जल्द पूरा करने को कहा। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में वही ठेकेदार किसी भी टेंडर के लिए आवेदन करें जो शीघ्र कार्य पूरा करने की क्षमता रखते हों। बाद में टीम की कमी या माल की कमी की बहानेबाजी नहीं चलेगी। इसलिए पहले से ही अपनी क्षमता सुधार लें तभी टेंडर में भागीदारी करें। कहा कि जल्द ही जिले में विभिन्न कार्यों के लिए टेंडर निकाले जाएंगे। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी सुनील गुप्ता आदि मौजूद रहे।