मुजफ्फरनगर, जेएनएन। तेज बारिश के चलते गांव बेगराजपुर में गुरुवार देर रात्रि मकान गिरने से दो महिलाओं व एक बच्ची की मौत हो गई। चार लोग घायल हो गए। इस घटना से मौके पर अफरातफरी मच गई। रात में ही लोग राहत और बचाव कार्य में जुट गए। मौके पर इसकी सूचना पुलिस को भी दे दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को भर्ती कराया और शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गांव बेगराजपुर निवासी इम्तियाज का मकान बारिश के चलते भरभराकर गिर गया। देर रात्रि में हुए हादसे से अफरा-तफरी मच गई। सीओ खतौली आरके सिंह, मंसूरपुर व आसपास के थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। बारिश के बीच पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से मकान के मलबे में दबे परिवार के सदस्यों को बाहर निकाला और जिला अस्पताल पहुंचाया। घायल इम्तियाज की रिश्तेदार मीना पत्नी हबीब निवासी गांव तेजलहेडा थाना छपार, जुबेदा पत्नी फुरकान व अनीशा पुत्री फुरकान निवासी गांव गगसोना थाना फलावदा मेरठ को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इसमें जुबैदा (35) पत्नी सुरगान निवासी गगसौना थाना फलावदा मेरठ, अलीशा (12), मीना (70) पत्नी हबीब निवासी गांव तेजलहेड़ा थाना चरथावल की मौत हो गई। इम्तियाज, उसकी पुत्री नगमा,पत्नी सायरा व दामाद परवेज का इलाज चल रहा है।

रातभर जागते रहे गांव के लोग

इस हादसे से इलाकें में सनसनी फैल गई। गांव के लोग इस घटना स्‍थल पर जुटे रहे। रातभर चीखने और चिलाने की आवाजें आती रहीं। देर रात के हादसे के बाद माहौल गमगीन था। लोग रातभर मलबे को हटाने में जुटे रहे। शोक की लहर पूरे गांव में फैली रही। जिस कारण लोगों को रातभर नींद नहीं आई। वहीं इस हादसे के बाद घायलों के साथ कुछ ग्रामीण अस्‍पताल भी पहुंचे हुए हैं। बताया जा रहा है कि अभी इनकी हालत ठीक है।

प्रशासन ने किया घटनास्थल का मुआयना, पीड़ितों को मदद का आश्वासन

एसडीएम इंद्राकांत द्विवेदी ने हल्का लेखपाल इंद्रवीर के साथ मौका मुआयना किया है। पीड़ितों से नुकसान की जानकारी ली और मदद का आश्वासन दिया है। मकान गिरने पर हादसे में घायल इमत्याज की रिश्तेदार मीना पत्नी हबीब निवासी गांव तेजलहेडा थाना छपार,जुबेदा पत्नी फुरकान व अनिशा पुत्री फुरकान निवासी गांव गगसोना थाना फलावदा, मेरठ की मृत्यु हो गई थी।  जबकि इमत्याज की पुत्री नगमा, पत्नी सायरा व दामाद परवेज निवासी तेजलहेडा घायल हुए हैं। एसडीएम खतौली इंद्राकांत द्विवेदी ने निरीक्षण किया और अस्पताल में भर्ती घायलों की जानकारी ली गई। शुक्रवार सुबह तहसील से हल्का लेखपाल इंद्रवीर की टीम ने बेगराजपुर पहुंचकर कर क्षतिग्रस्त मकान का जायजा लिया है। नुकसान का आंकलन कर रिपोर्ट बनाई गई है। जिसे जिला मुख्यालय भेजा गया है। उधर, हादसे को लेकर बेगराजपुर के साथ फलावदा में भी शोक छा गया। एसडीएम इंद्राकांत द्विवेदी ने बताया कि पीड़ितों की हर संभव मदद की जाएगी। सभी तथ्यों को जुटाया गया है। लेखपाल से रिपोर्ट बनवाई गया है। 

Edited By: Himanshu Dwivedi