बिजनौर, जागरण संवाददाता। धामपुर के नगीना मार्ग पर केएम इंटर कालेज के बाहर रातों-रात कुछ लोगों ने पिंडदान स्थल का निर्माण कर दिया। गुरुवार सुबह शिक्षक कालेज पहुंचे तो इसे देखकर उन्हें आश्चर्य हुआ। इस मामले में कालेज के प्रधानाचार्य ने पुलिस से शिकायत की।

यह है मामला

नगीना मार्ग पर केएम इंटर कालेज स्थित है। कालेज के बाहर काफी समय से पिंडदान स्थल बनाए जाने की मांग चल रही थी। गुरुवार सुबह प्रधानाचार्य और शिक्षक आदि कालेज पहुंचे तो उन्होंने कालेज के बाहर एक पिंडदान स्थल बना देखा। इसके बाद उन्होंने आसपास पूछताछ की, लेकिन कुछ पता नहीं लग सका। बाद में प्रधानाचार्य सुभाष चंद ने पुलिस को लिखित शिकायत की। प्रधानाचार्य सुभाष चंद ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 30 सितंबर को भी कुछ लोगों ने निर्माण का प्रयास किया था, लेकिन तब उन्हें रोक दिया गया था। गुरुवार को कालेज खुलने पर वह पहुंचे तो पिंडदान स्थल के निर्माण का पता लगा। उन्होंने इस मामले में कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में कोतवाल पीके सिंह ने बताया कि शिकायत प्राप्त हुई है, शिकायत को एसडीएम धामपुर को भेज दिया गया है।

मिलक मुकीमपुर में गन्ने के खेत में मिले गोवंशी अवशेष

बिजनौर, जागरण संवाददाता। धामपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव मिलक मुकीमपुर में बुधवार देर शाम एक गन्ने के खेत में गोवंशी अवशेष मिले। खेत स्वामी ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद सीओ और कोतवाल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने किसान की तहरीर पर गोवध निवारण अधिनियम के तहत अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया है।

गांव मिलक मुकीमपुर निवासी किसान भारत सिंह का गन्ने का खेत गांव गंगवाली रोड पर स्थित कब्रिस्तान के पास है। बुधवार शाम भारत सिंंह अपने खेत पर गया था। इसी दौरान उसने अपने खेत में गोवंशी अवशेष पड़े देखे। भारत ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद सीओ अजय अग्रवाल और कोतवाल पीके सिंह मौके पर पहुंचे। जांच में अवशेष गोवंशी होने की पुष्टि हुई। किसान का आरोप है कि किसी ने गोवंश का वध कर उसके खेत में अवशेष फेंक दिए हैं। जांच के बाद पुलिस ने अवशेषों को मिट्टी में दबवा दिया। इस मामले में किसान भारत ङ्क्षसह ने पुलिस को तहरीर दी है। कोतवाल के मुताबिक भारत सिंह की तहरीर पर एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ उत्तर प्रदेश गोवध निवारण अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आसपास के ग्रामीणों से पूछताछ कर मामले की जांच की जा रही है। 

Edited By: Parveen Vashishta