मेरठ, जेएनएन। शहर में चोरी-लूट की वारदातों का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। रविवार को फिर एक बार बदमाशों ने अलग-अलग स्थानों पर ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम दे डाला। वहीं, देहली गेट क्षेत्र में तो पुलिस गश्त की पोल ही खुल गई। यहां जिला अस्पातल के पास एक पैदल लुटेरे ने तो स्कूटी सवार छात्रा से मोबाइल लूटा और फरार हो गया। जबकि इस दौरान वारदातस्थल के पास ही डायल 112 पर तैनात पुलिसकर्मी गश्त की बजाय पेड़ के नीचे आराम करते मिले। वारदात 1

शादी की खरीदारी करने गई छात्रा से लूटपाट

दिल्ली-देहरादून हाईवे स्थित गाडविन कालोनी निवासी रहनुमा पुत्री मंसूर फैशन डिजाइनिंग की छात्रा है। रविवार दोपहर छात्रा अपनी शादी की खरीदारी करने छतरी वाले पीर स्थित इमरान साड़ी सेटर पर आई थी। खरीदारी करने के बाद छात्रा स्कूटी पर वापस लौट रही थी। तभी पैदल आए बदमाश ने सरेआम रहनुमा से मोबाइल लूट लिया। उसने साहस दिखाते हुए बदमाश को पकड़ने का प्रयास भी किया लेकिन आरोपित खैरनगर की तंग गलियों में घुसकर फरार हो गया। छात्रा ने लूट की तहरीर दी है।

इंस्पेक्टर ने ही पकड़ी कामचोरी

वारदात के समय देहली गेट इंस्पेक्टर वीके त्रिपाठी पुलिस फोर्स के साथ गश्त कर रहे थे। तभी उनकी नजर जिला अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर पर गई। जहां पीआरवी संख्या-0543 के चालक कांस्टेबल सतेंद्र कुमार व होमगार्ड अरुण कुमार डायल-112 की गाड़ी पेड़ के नीचे लगाकर आराम कर रहे थे। इंस्पेक्टर ने वहां खड़े होने की वजह पूछी तो पुलिसकर्मी कुछ बता नहीं सके। इतना ही नहीं कांस्टेबल ने असलहा भी गाड़ी के अंदर रखा था, जबकि एक से दो बजे के बीच पीआरवी की लोकेशन घंटाघर पर होनी चहिए थी। इंस्पेक्टर ने लापरवाह पुलिसकर्मियों की फटकार लगाने के बाद उनकी शिकायत अधिकारियों से की।

वारदात 2

थापर नगर में अधिवक्ता से लूटा आइफोन

मेडिकल थाना क्षेत्र के जागृति विहार निवासी अधिवक्ता अनुज शर्मा का थापर नगर में आफिस है। शनिवार रात काम खत्म करने के बाद अधिवक्ता घर जा रहे थे। तभी गली से निकलते ही बाइक सवार दो युवकों ने हाथ देकर अधिवक्ता की कार रोक ली। इसी बीच एक आरोपित ने उनका आइफोन लूट लिया और फरार हो गए। शोर सुनकर आसपास के लोग भी आ गए। उन्होंने पुलिस के साथ मिलकर बदमाशों की तलाश भी की, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला। रविवार सुबह अधिवक्ता ने तहरीर दी है।

वारदात 3

प्रापर्टी डीलर के बंद मकान का ताला तोड़कर चोरी

मेरठ : चार दिन पहले प्रापर्टी डीलर परिवार संग घर में ताला लगाकर वैष्णों देवी गए थे। तभी ग्रिल काटकर चोरों ने उनके मकान में सेंध लगाई। आरोपित जेवरात व लाखों रुपये की नकदी के साथ कीमती सामान ले गए। परतापुर थाना क्षेत्र के इंदिरापुरम कालोनी निवासी प्रापर्टी डीलर सतीश कुमार चार दिन पहले परिवार संग वैष्णो देवी दर्शन के लिए गए थे। उनके घर पर ताला लगा था। तभी चोर घर में घुस गए। चोर अलमारी तोड़कर जेवरात, एलईडी समेत लाखों की नकदी चोरी करके ले गए। ग्रिल टूटी देखकर पड़ोसियों ने सतीश को जानकारी दी। उन्होंने मेरठ पहुंचते ही तहरीर दी। आरोप है कि पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। पीड़ित थाने के चक्कर लगा रहा है। परतापुर थाना प्रभारी शैलेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि मैं अभी थाने पर नहीं हूं। मामला संज्ञान में नहीं है। जांच कर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। वारदात 4

साकेत चौकी के सामने स्पोर्ट्स कंपनी के सुपरवाइजर से लूट

मेरठ : सिविल लाइन थाना क्षेत्र के प्रगति नगर निवासी उपेंद्र कुशवाहा पुत्र देवी नंद कुशवाहा परतापुर स्थित स्पोटर््स कंपनी में सुपरवाइजर हैं। रविवार शाम उपेंद्र फैक्ट्री से लौट रहे थे। तभी साकेत चौकी के सामने बाइक सवार बदमाशों ने युवक से मोबाइल लूट लिया। शोर सुनकर गोल मार्केट में मौजूद लोग व होमगार्ड आ गए। उन्होंने कुछ दूरी तक बदमाशों का पीछा भी किया लेकिन आरोपित तेज रफ्तार में मवाना रोड की तरफ फरार हो गए। पीड़ित ने तहरीर दी है। पर्स लुटेरे को एंबुलेंस में थाने लेकर पहुंचे ग्रामीण

मेरठ : रविवार दोपहर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण पर्स लुटेरों को थाने लेकर पहुंच गए। जिन्हें देखकर पुलिसकर्मी घबरा गए। उन्होंने ग्रामीणों से आरोपित को अपनी हिरासत में ले लिया और हवालात में बंद कर दिया, जिससे पूछताछ चल रही है। ग्रामीणों के मुताबिक शनिवार रात आटो में सवार महिला का एक युवक ने पर्स लूट लिया था। ग्रामीणों ने आरोपित को दबोच लिया और उसकी जमकर पिटाई की। इस दौरान आरोपित ने कई लोगों को दांतों से काटकर घायल कर दिया। थाना प्रभारी शैलेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि आरोपित से पूछताछ कर उसने अन्य साथियों के बारे में पता किया रहा है।

Edited By: Jagran