अवैध गोदाम से डीजल के दस ड्रम बरामद

मेरठ, जेएनएन। आपूर्ति और पुलिस विभाग की संयुक्त टीम ने हाईवे किनारे स्थित नालपुर गांव के पास चल रहे एक अवैध गोदाम में छापामारी कर डीजल से भरे दस ड्रम बरामद किए है। गोदाम में काफी समय से पेट्रोलियम कंपनी के टैंकर से तेल चोरी करके एकत्र किया जा रहा था। आपूर्ति विभाग की टीम ने नमूने लेकर प्रयोगशाला भेजे हैं। आपूर्ति निरीक्षक ने जांच रिपोर्ट डीएम को भेज दी है। रविवार रात बारह बजे एक सूचना के आधार पर थाना प्रभारी जितेंद्र कमार दूबे और आपूर्ति निरिक्षक दिव्या श्रीवास्तव ने टीम के साथ गोदाम में छापेमारी करके डीजल से भरे दस ड्रम बरामद किए थे। लोगों का कहना है कि पेट्रोलियम कंपनी के टैंकर से तेल चोरी किया जाता था। छापे के दौरान आरोपित दीवार फांदकर भाग गया। अधिकारियों के आदेश के बाद उठा पर्दा रविववार रात छापेमारी की गई थी, लेकिन जांच के नाम पर दोनों विभाग के अधिकारी पर्दा डालते रहे। सोमवार को जब भाजपा नेताओं ने अधकारियों को पूरे मामले से अवगत कराया तो सेामवार दोपहर बारह बजे मामला प्रकाश में आया। पहले पुलिस और आपूर्ति विभाग अनभिज्ञता जता रहे थे। क्षेत्र में सस्ते दामों पर होती थी बिक्री स्थानीय लोगों का कहना है कि डीजल टैंकरों से चोरी करने के बाद एकत्र किया जाता था। इसके बाद मिलावट करके उसे सस्ते दामों में ग्रामीण क्षेत्रों में बेचा जाता था। कहीं पुलिस के संरक्षण में तो नहीं हो रहा था चोरी हाईवे पर रात और दिन पुलिस की गश्त रहती है। ऐसे में हाईवे किनारे बने अवैध गोदाम में चोरी का डीजल स्टोर किया जाता रहा है, लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। स्थानीय लोगों की मानें तो रोज गोदाम में टैंकर आते थे और पुलिस गश्त करती रहती थी। --- छापेमारी के दौरान अवैध रूप से चल रहे गोदाम से करीब दस ड्रम डीजल के मिले है। आपूर्ति विभाग की टीम जांच में लगी है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। -जितेन्द्र कुमार दूबे, थाना प्रभारी, खरखौदा छापेमारी के दौरान दस ड्रम में 620 लीटर डीजल मिला है। कुछ ड्रम खाली थे। जांच रिपोर्ट तैयार करके डीएम को अनुमति के लिए भेज दी है। जांच में अभी तक नालपुर गांव निवासी विनोद पुत्र प्रेमराज का नाम प्रकाश में आया है। आदेश मिलते ही कार्रवाई की जाएगी। -दिव्या श्रीवास्तव, आपूर्ति निरिक्षक

Edited By: Jagran