जागरण संवाददाता, मेरठ। रात करीब आठ बजे घटनास्थल के पास से कुछ राहगीर निकल रहे थे। उन्होंने अंधेरे में गाड़ी खड़ी देखी तो पास चले गए, वह चालू थी। मोबाइल की टार्च से अंदर देख तो खून से लथपथ शव था। शव के उपर चादर और फिर उसके उपर तकिया रखा था। जानकारी मिलते ही एसपी सिटी और सीओ भी मौके पर पहुंचे। टीम ने शीशा तोड़कर गाड़ी को बंद किया। गाड़ी में बीयर की पेटी भी थी। पुलिस ने बताया कि प्रापर्टी के लिए बेटे ने पिता को मार डाला। वारदात घर से दो किमी की दूरी पर की गई। गाड़ी के अंदर ही शव को तकिए व चदर से ओढ़ाकर फरार हो गया। 

बेटी-दामाद को प्रापर्टी देने का शक

थाना प्रभारी तपेश्वर सागर ने बताया कि शुरुआती जांच में सामने आया कि सुकरम पाल ने बड़ी बेटी की शादी करनावल में की थी। उनके छोटे बेटे की करीब छह साल पहले हादसे में मौत हो गई थी। बड़े बेटे से उनकी अनबन थी, जबकि बड़ी बेटी और दामाद साथ में ही रहते थे। रोहित को शक था कि स्वजन सारी प्रापर्टी बहन को दे देंगे, जिसका वह विरोध करता था।

दो गोली लगना सामने आया

पुलिस ने बताया कि उनको दो गोली लगी थी। एक गर्दन में तो दूसरी सिर के पास। संभावना जताई जा रही है कि गाड़ी में कोई अन्य भी सवार था। शव भी चालक वाली सीट के बराबर में मिला था।

कुछ दिनों पहले पार्षद का मिला था शव

कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के श्रद्धापुरी निवासी पार्षद मुनीश का शव भी कुछ दिनों पहले पावली खास रोड पर ऐसे ही गाड़ी में मिला था। लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शीशा तोड़कर पहले गाड़ी बंद की और फिर शव को निकाला था। इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ था।

मकान बेचने के विरोध पर पत्नी को दिया जहरीला पदार्थ

मकान बेचने का विरोध करने पर पति ने पहले तो विवाहिता को पीटा और फिर उसे जहरीला पदार्थ दे दिया। चीख-पुकार पर आसपास के लोग एकत्र हो गए और उन्होंने मायके वालों को सूचना दी। गंभीर हालत में विवाहिता को दिल्ली रोड स्थित नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। वहीं, पुलिस ने आरोपित पति को पकड़ लिया है। सदर बाजार थाना क्षेत्र के थापर नगर निवासी अमरीन की शादी पास में ही रहने वाले शुजात से हुई थी। आरोप है कि कुछ समय बाद से ही दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा था। विवाहिता के भाई कल्लू ने बताया कि कुछ समय से पति मकान बेचना चाह रहा था, जिसको लेकर दंपती में विवाद रहता था। कई बार पंचायत भी हुई, लेकिन बेनतीजा रहीं। 

Edited By: Himanshu Dwivedi