मेरठ,जेएनएन। चौ. चरण सिंह विश्वविद्यालय से जुड़े कई कॉलेजों के सामने दाखिले को लेकर चुनौती बनी हुई है। तो दूसरी ओर खुद विवि परिसर में संचालित होने वाले परास्नातक और डिप्लोमा कोर्स में अभी प्रवेश पूरे नहीं हो पाए हैं। कई डिप्लोमा कोर्स में तो खाता भी नहीं खुला है। यह स्थिति तब है जब परास्नातक में 20 से 25 सीटों पर प्रवेश होना है। इन कोर्स में प्रवेश के लिए छात्रों के पास 31 अगस्त का समय है।

---

एमए संस्कृत में सबसे कम प्रवेश

विवि परिसर में संचालित एमए हिदी, उर्दू, अंग्रेजी, संस्कृत में प्रवेश की स्थिति देखें तो सबसे कम एमए संस्कृत में दाखिले हुए हैं। एमए संस्कृत में 20 सीटों पर केवल दो प्रवेश हुए हैं। एमए उर्दू में 25 सीटों में 19 सीटें रिक्त हैं। एमए हिदी में 25 में से 18 सीटों पर प्रवेश होना है। एमए अंग्रेजी में 25 सीटों में से नौ सीटें रिक्त हैं।

कला में भी सीटें खाली

एमए कला में भी सीटें खाली हैं। एमए अर्थशास्त्र में 25 में से नौ, इतिहास में 25 में 10, मनोविज्ञान में 25 में आठ, राजनीति विज्ञान में 25 में सात, समाजशास्त्र में 25 में 16 सीटों पर प्रवेश नहीं हुआ है। ये सारे कोर्स च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) में संचालित हैं। इसके अलावा एमकॉम में 40 सीटों में 29 पर एडमिशन नहीं हुए हैं।

साइंस में भी पूरे प्रवेश नहीं

कैंपस में सीबीसीएस के अंतर्गत एमएससी की पढ़ाई हो रही है। एमएससी में भी किसी भी विषय में पूरे सीटों पर प्रवेश नहीं हो पाया है। एमएससी जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग में 20 में सात सीटों पर प्रवेश नहीं हुआ है। एमएससी बॉटनी में 25 में छह, केमिस्ट्री में 26 में छह, मैथ्स में 25 में तीन, फिजिक्स में 25 में पांच, जूलोजी में 25 में छह सीटों पर प्रवेश होना है।

डिप्लोमा कोर्स में भी कम प्रवेश

विश्वविद्यालय में इस बार हिदी अनुवाद में डिप्लोमा कोर्स शुरू किया गया है। इसमें 40 सीटों पर प्रवेश होना है, लेकिन सीसीएसयू में पोर्टल पर इसमें एक भी रजिस्ट्रेशन नहीं दिख रहा है। अन्य डिप्लोमा कोर्स में भी प्रवेश और रजिस्ट्रेशन की स्थिति भी ठीक नहीं है। डिप्लोमा इन फ्रेंच एंड लिटरेचर में पांच सीट रिक्त है। रसियन लैंग्वेज में भी पांच सीटें रिक्त हैं। सर्टिफिकेट ऑफ फ्रेंच लैंग्वेज में 20 सीटों में केवल एक छात्र ने प्रवेश लिया है। सर्टिफिकेट ऑफ रसियन लैंग्वेज में 20 में नौ सीटें खाली हैं। डिप्लोमा इन फ्रेंच लैंग्वेज में 10 में आठ सीटें रिक्त हैं। डिप्लोमा इन रसियन लैंग्वेज में 10 सीटों पर प्रवेश होना है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस