मेरठ, जेएनएन। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में बदमाश खुलकर वारदात कर रहे हैं। गुरुवार को श्रद्धापुरी फेज-दो में घर के बाहर धूप में बैठीं रेलवे इंजीनियर की पत्नी से काली पल्सर सवार दो बदमाशों ने हथियारों के बल पर सोने की चेन लूट ली। शोर मचाने पर हत्या की धमकी देकर बदमाश भाग गए। सूचना के आधा घंटे बाद पहुंची पीआरवी और थाना पुलिस के खिलाफ लोगों में रोष है। वहीं, थाने के मुंशी ने तहरीर तो ली, मगर केस दर्ज करने की बात को अनसुना कर पीड़ित को भेज दिया।

अंकित कुमार रेलवे में इंजीनियर हैं और सिटी रेलवे स्टेशन पर तैनात हैं। अंकित ने बताया कि गुरुवार को वे ड्यूटी पर थे। पत्नी नीरज दोपहर में घर के बाहर धूप में बैठी थीं। तभी बाइक पर दो बदमाश आए और रास्ता पूछने लगे। जब तक नीरज कुछ समझ पातीं, एक बदमाश ने तमंचा दिखाकर नीरज के गले में पड़ी ढाई तोला सोने की चेन पर झपट्टा मारकर तोड़ लिया।

नंबर प्लेट पर बांध रखा था कपड़ा

बदमाशों ने बाइक की नंबर प्लेट पर कपड़ा बांधकर उसे ढक रखा था। मगर लूट के बाद बाइक की रफ्तार तेज हुई तो कपड़ा उड़ा, जिसके आखिरी चार अंक 0194 ही नीरज पढ़ सकीं। शोर होने पर पड़ोसियों की भीड़ जमा हो गई। पुलिस को भी सूचना दी। लोग बदमाशों के पीछे भी दौड़े, मगर तब तक वे फरार हो चुके थे। दोनों बदमाश बिना हेलमेट व बिना मास्क के थे। दोनों की उम्र करीब 25-27 वर्ष थी। अंकित का आरोप है कि अगर पुलिस तुरंत आ जाती तो निश्चित ही बदमाशों को पकड़ा जा सकता था। इनका कहना-

पुलिस सूचना के कुछ ही देर में पहुंच चुकी थी। महिला से पूछताछ कर बदमाशों का हुलिया पूछा गया है। तहरीर पर केस दर्ज हो गया है। जल्द ही बदमाशों को पकड़कर लूट का राजफाश किया जाएगा।

सुबोध कुमार सक्सेना, इंस्पेक्टर कंकरखेड़ा

Edited By: Jagran