मेरठ,जेएनएन। नगर की मधुबन कॉलोनी स्थित निर्माणाधीन मकान में सोते समय राजमिस्त्री की निर्मम हत्या कर दी गई। सिर व गुप्तांग पर गहरे जख्म थे। हत्या को लेकर लोगों में आक्रोश फैल गया। बेटे ने पुलिस को तहरीर दी है। फलावदा थानाक्षेत्र के गांव नंगला हरेरू निवासी राजमिस्त्री नौशाद (45) पुत्र शमशाद ने करीब दो माह पूर्व कस्बे की मधुबन कॉलोनी में 130 मीटर का प्लाट खरीदा था। इस पर निर्माण कार्य करा रहे थे। पास ही पत्नी व बच्चों के साथ किराये पर रहने लगे। गुरुवार रात वह निर्माणाधीन मकान में सोने चले गए। सुबह करीब 6.30 बजे उनका बेटा शहजाद वहां पहुंचा। उसने चादर हटाकर देखा तो पिता मृत पड़े थे। चारपाई के आसपास खून बिखरा पड़ा था।

इंस्पेक्टर विनय आजाद ने बताया कि नौशाद के सिर पर नुकीले हथियार से वार हुआ था। खून ज्यादा बहने से मौत हो गई है। परिजन रिश्तेदारों पर हत्या की आशंका जता रहे हैं। फोरेंसिक टीम ने भी मौका मुआयना कर खून के नमूने लिए।

मध्यरात्रि को हुई हत्या

पत्नी नसीमा ने बताया रात 11 बजे वह सोने चले गए। मना भी किया, लेकिन सीमेंट, लकड़ी की चौखट आदि चोरी होने के डर से वह निर्माणाधीन मकान में सोने चले गए। कुछ देर के लिए वह भी गई थी लेकिन बच्चे अकेले होने के कारण वापस आ गई। संभवत: इसी के बाद ही हत्या की गई।

संपत्ति व अवैध संबंधों में उलझी पुलिस की थ्योरी

पत्नी का कहना है कि 750 गज जमीन को लेकर नौशाद का अपने बहनोइयों से मनमुटाव था। करीब साढ़े तीन लाख रुपये की उधारी थी। नौशाद के गुप्तांग पर चोट के निशान हैं। पुलिस हत्या के पीछे संपत्ति व अवैध संबंधों को मानकर जांच कर रही है।

----- सिर में गहरी चोट के निशान से ब्रेन हेमरेज होने की संभावना है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही हत्या की स्थिति स्पष्ट होगी।

-संजीव देशवाल, सीओ मवाना

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021