मेरठ, जेएनएन। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) के अंतर्गत रेहड़ी-पटरी दुकानदारों से वर्चुअल संवाद कार्यक्रम के तहत स्ट्रीट वेंडर्स को सन्देश दिया। नगर निगम के टाउनहाल में लगी दो एलईडी स्क्रीन पर इसका लाइव प्रसारण किया गया। 

स्ट्रीट वेंडर्स देश की ताकत

प्रधानमंत्री ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर्स देश की ताकत हैं।इन्हीं के छोटे छोटे प्रयासों से देश मजबूत हो रहा है। गरीबों की अन्य योजनाओं की तरह ही इस योजना में भी तकनीक का उपयोग किया गया है। ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत अब योजना का लाभ सीधे गरीबों तक पहुंचा है। देश में पहली बार ऐसी योजना आई है। जिसका लाभ कम समय मे गरीबों तक पहुंच रहा है। प्रधानमंत्री ने आगरा की स्ट्रीट वेंडर प्रीति, वाराणसी के स्ट्रीट वेंडर अरविंद और लखनऊ के स्ट्रीट वेंडर विजय बहादुर से बात की। प्रधानमंत्री ने संवाद के जरिये कोरोना महामारी के लाकडाउन के दौरान स्ट्रीट वेंडर्स के संघर्ष को जाना। योजना से मिले लाभ से उनकी जिंदगी में क्या बदलाव आया। यह भी जानने की कोशिश की। प्रधानमंत्री ने कहा कि डिजिटल भुगतान समय पर कर स्ट्रीट वेंडर्स लोन के ब्याज से बच सकते हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने भी गरीबों के लिए चलाई जा रही योजना पर प्रकाश डाला। कहा कि केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कोरोना से निपटने के प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। ताकि गरीब आत्म निर्भर बन सकें। प्रधानमंत्री के सन्देश के बाद नगर निगम टाउनहाल में आयोजित कार्यक्रम में महापौर सुनीता वर्मा, विधायक कैंट सत्य प्रकाश अग्रवाल, जिलाधिकारी के बाला जी ने 25 स्ट्रीट वेंडर्स को ऋण प्रमाण पत्रों का वितरण किया।

बोले जनप्रतिनिधि

विधायक कैंट सत्य प्रकाश अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री का संदेश है कि सबको सुरक्षित रखना है। गरीबों को सूदखोरों से बचाना है। कोरोना में बचाव रखना है। महापौर सुनीता वर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री की योजना गरीबों के लिए अच्छी है। गरीब तक लाभ पहुंचे यह सुनिश्चित करना है।

शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करना है

जिलाधिकारी के बाला जी ने कहा कि अभी काम पूरा नहीं हुआ है। निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति शत प्रतिशत करनी है। स्ट्रीट वेंडर्स को अधिक से अधिक लाभ पहुंचे। इसके लिए इसी तेजी के साथ आगे भी काम करना होगा।

5057 स्ट्रीट वेंडर्स को मिला लाभ

नगर आयुक्त डॉ अरविंद चौरसिया ने बताया कि नगर निगम अंतर्गत 14,105 स्ट्रीट वेंडर्स ने आवेदन किया था। 7, 359 स्ट्रीट वेंडर्स के आवेदन स्वीकृत किये गए हैं। जिसके सापेक्ष 5057 लोन वितरित किए जा चुके हैं। देश मे मेरठ नगर निगम इस मामले में 12 वें नम्बर पर है। जबकि प्रदेश के नगर निगमो में आठवें स्थान पर है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस