मेरठ, जेएनएन। सरधना क्षेत्र के एक गांव में रविवार को किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पंचायत का आयोजन किया। पंचायत में आरोपित पक्ष ने पीड़ित परिवार को पांच लाख देने का भरोसा दिलाया, जिस पर दोनों पक्षों में समझौता हो गया। किशोरी के परिवार ने केस वापस लेने का भरोसा दिलाया।

यह है मामला

ग्रामीणों ने बताया कि गांव निवासी 13 वर्षीय किशोरी को गांव के ही एक युवक ने खेत पर बुलाया था। वहीं पर उसके साथ के पांच अन्य युवक भी मौजूद थे। इनकी उम्र 20-22 के करीब थी, मगर एक व्यक्ति की उम्र 45 साल है। सभी पर किशोरी ने दुष्कर्म का आरोप लगाया। पुलिस ने पीड़ित किशोरी के परिजनों की तहरीर पर सभी आरोपितों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म, हत्या के प्रयास और पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज करा दिया। उसके बाद गांव में पंचायत बैठ गई। दोनों पक्षों को आमने सामने बैठाकर आरोपित पक्ष को पांच लाख देने की बात कही है, जिस पर पीड़ित पक्ष ने मुकदमा वापस लेने का भरोसा दिलाया। किशोरी के मेडिकल में भी दुष्कर्म पुष्टि हो चुकी है। वहीं पांच दिन बाद भी किशोरी की ब्‍लीडिंग नहीं रुक रही है। उसकी तबियत ठीक न होने के चलते ही पुलिस किशोरी के बयान भी नहीं करा सकी है।

इन्‍होंने बताया

एसपी देहात अविनाश पांडेय ने बताया कि किशोरी का 161 सीआरपीसी में बयान दर्ज कराया है, जिस पर किशोरी ने बताया कि हमारी मां ने आरोपित पक्ष से रकम उधार ली थी। रकम चुकानी न पड़े, इसके लिए सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया। पुलिस गुरुवार को किशोरी के कोर्ट में बयान दर्ज कराएगी। पंचायत में समझौते के मामले की जानकारी नहीं है।

Posted By: Taruna Tayal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप