मेरठ । राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) साकेत में कौशल वृद्धि सेंटर खुल गया है। गुरुवार को होंडा मोटर साइकिल प्राइवेट लिमिटेड की कार्यशाला का शुभारंभ जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने किया। उन्होंने युवाओं को अधिक से अधिक अपने अंदर हुनर गढ़ने पर जोर दिया। कहा कि हुनरमंद को रोजगार की कमी नहीं रहेगी।

युवाओं में कौशल विकास के लिए होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने यह सेंटर खोला है। उत्तर प्रदेश के तकनीकी शिक्षा और प्रशिक्षण निदेशालय के साथ इसके लिए करार किया गया। जिलाधिकारी ने डिपार्टमेंट मैनेजर फील्ड सर्विस प्लानिंग राम विजय गोले के साथ करार पर हस्ताक्षर किया। इस अवसर पर डीएम ने कहा कि हुनरमंद होना एक ऐसी कला है जो जीवन भर व्यक्ति के साथ रहती है। छात्रों को अपने अंदर कोई न कोई हुनर जरूर गढ़ना चाहिए। भारत के प्रधानमंत्री कौशल विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। आइटीआइ में खुला कौशल वृद्धि केंद्र युवाओं के लिए वरदान साबित होगा। आइटीआइ के प्रिंसिपल पीपी अत्री ने बताया कि कौशल वृद्धि केंद्र में होंडा मोटर एंड स्कूटर इंडिया ने सीएसआर के तहत 15 लाख रुपये का टूल उपकरण शॉप स्थापित किया है। इससे ऑटो मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन, इलेक्ट्रानिक्स के छात्रों को लाभ मिलेगा। यहां से प्रशिक्षण लेने वाले युवाओं को आसानी से रोजगार मिलेगा। कार्यशाला का संचालन जिला समन्वयक बनी सिंह चौहान ने किया। डिप्टी डायरेक्टर इंडस्ट्रीज एससी विश्वकर्मा, ग्रीस कुमार, एके निगम, उदयवीर सिंह, कुलदीप सिंह का सहयोग रहा। जोनल इंचार्ज सीएस जान स्वेतांक गुप्ता, सेंट्रल ट्रेनिंग हेड पवन शर्मा, एनएस यादव, संजीव गुप्ता, विनय काजला, पारस जैन आदि उपस्थित रहे।

100 प्रशित प्लेसमेंट

आइटीआइ के प्रिंसिपल पीपी अत्री ने बताया कि अप्रैल 2020 से भारत सरकार बीएस 4 के स्थान पर बीएस 6 ना‌र्म्स लागू कर रही है। इसके तहत आटो सेक्टर को नई टेक्नोलॉजी और डीलरशिप पर नए प्रशिक्षित युवाओं की जरूरत होगी। आइटीआइ से प्रशिक्षण लेने वाले युवाओं को इसमें मौका मिलेगा। आइटीआइ में मारुति उद्योग ने भी मोटर मैकेनिक व्यवसाय, डेटिंग, पेंटिंग के लिए आधुनिक कार्यशाला खोला है। यहां से प्रशिक्षित युवाओं को 100 फीसद प्लेसमेंट मिलेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस