बुलंदशहर, जागरण संवाददाता। बुलंदशहर में सुधीर नर्सिंग होम में डाक्टरों की घोर लापरवाही ने एक मरीज की जान ले ली। चिकित्सकों ने अन्य मरीज की जगह हमनाम डेंगू से पीडि़त मरीज का पेट का आपरेशन कर दिया। करीब दस घंटे बाद मरीज की मौत हो गई। स्वजन ने आरोपित चिकित्सक व अन्य स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा किया। पुलिस ने नर्सिंग होम मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पेट का आपरेशन

थाना नरसेना क्षेत्र के गांव किर्यावली निवासी 45 वर्षीय यूसुफ सैफी को बुधवार की देर रात भूड़ रोड स्थित सुधीर नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। चिकित्सकों ने यूसुफ की जांच कर डेंगू ओर प्लेलेट्स कम होने की बात कही और उपचार किया। यूसुफ के बेटे आकिल ने बताया कि गुरुवार सुबह करीब 11 बजे एक जूनियर डाक्टर कमरे में आया और पिता यूसुफ को चिकित्सक के बुलाने की बात कहकर अपने साथ ले गया। बाद में बेहोश कर उसके पेट का आपरेशन कर दिया। जब यूसुफ की आंख खुली तो वह अपने कमरे में बेड पर था।

स्‍वजन ने किया हंगामा

यूसुफ ने अपनी पत्नी साइन बेगम ओर अन्य स्वजन को जबरन आपरेशन करने की बात कही। इस पर स्वजन ने हंगामा कर दिया। हंगामा होते ही आरोपित चिकित्सक सुधीर कुमार मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने प्रबंधन से पूछताछ कर उपचार कराने और पेट का अल्ट्रासाउंड कराने का आश्वासन देकर स्वजन को शांत कराया। रात करीब नौ बजे यूसुफ ने दम तोड़ दिया। इस पर स्वजन ने हंगामा कर दिया और आरोपित चिकित्सक की गिरफ्तारी तक शव उठाने से इन्कार कर दिया।

यह बोले एसएसपी

पूर्व विधायक जयभगवान उर्फ गुड्डू पंडित ने स्वजन को समझाकर शांत किया और शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। बताया जा रहा है कि दिन में स्टाफ ने बताया था कि आपरेशन किसी और यूसुफ का करना था लेकिन कर दिया इस युसुफ का। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि चार चिकित्सकों का पैनल शव का पोस्टमार्टम करेगा और वीडियोग्राफी कराई जाएगी। स्वजन की तहरीर पर आरोपित चिकित्सक ओर 4-5 स्टाफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

चिकित्सक और मृतक आश्रितों में हुआ समझौता

 नगर के सुधीर नर्सिंग होम में डेंगू से पीड़ित मरीज के ऑपरेशन के बाद हुई मौत के मामले में स्वजन और चिकित्सकों में समझौता हो गया है। समझौते की कड़ी बने पूर्व विधायक गुड्डू पंडित ने स्वजन से समझौता नामा दिखा दिया है और पुलिस को सौंप दिया है। इसके बाद स्वजन पोस्टमार्टम कराने के बाद शव गांव किर्यावली नर्सेना ले गए। उधर सीएमओ के निर्देश पर सुधीर नर्सिंग होम के कुछ हिस्से पर सील लगा दी गई है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt