मेरठ, जेएनएन। गांव दुर्वेशपुर निवासी संजीव उर्फ अप्पू पुत्र भोपाल बीएसएफ में श्रीनगर तैनात था। सोमवार को ही संजीव छुट्टी लेकर गांव में आया था। मंगलवार की शाम पत्नी गीतांजलि के साथ खेत में बथुआ तोड़ने के लिए गया था। तभी वहां पर सिर में गोली मारकर संजीव की हत्या कर दी गई। पुलिस ने शक के आधार पर पत्नी गीतांजलि और छोटे भाई गुल्लू को उठा पुछताछ की। दोनों ने संजीव की हत्या करना कबूल कर ली। गुल्लू से हत्या में प्रयुक्त तमंचा बरामद कर लिया गया।

पति करता था शोषण, तो देवर से हो गए थे संबंध

रिजर्व पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सीओ सदर देहात अखिलेश भदौरिया ने बताया कि संजीव की पहली पत्नी ने सुसाइड कर लिया था। एक साल पहले संजीव ने अपने से 15 साल छोटी गीतांजलि से शादी की थी। संजीव के ड्यूटी पर जाने के बाद गीतांजलि के संबंध उसके छोटे भाई गुल्लू से हो गए। गीतांजलि ने पुलिस को बताया कि संजीव उसका शारीरिक शोषण करता था। उसने जब यह बात अपने देवर गुल्लू को बताई। तब गुल्लू ने अपने भाई को मारने की प्लानिंग तैयार की। पांच दिन पहले ही तीन हजार में तमंचा खरीदा था।

बीएसएफ जवान अंतिम संस्कार

गांव दुर्वेशपुर निवासी संजीव उर्फ अप्पू की तैनाती बीएसएफ में श्रीनगर में थी। सोमवार को छुट्टी पर आये संजीव की मंगलवार को सिर मे गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। बुधवार शाम को गांव के श्मशान में अंतिम संस्कार कर दिया गया। पूर्व विधायक योगेश वर्मा, ब्लॉक प्रमुख के पी सिंह, कालू प्रधान बली, अशोक प्रधान दुर्वेशपुर, बिजेंद्र प्रधान धनपुर आदि ने श्रद्धांजलि अर्पित की। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस