मेरठ, जागरण संवाददाता। लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा ने किसान संगठनों से 15 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत तीन पुतले फूंकने का आह्वान किया था। गुरुवार को इसमें फेरबदल कर पुतला दहन की तिथि 16 अक्टूबर तय की गई। 18 अक्टूबर को किसान ट्रेन रोकेंगे। 26 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत बुलाई गई है।

पुतला दहन कार्यक्रम में संशोधन

भारतीय किसान यूनियन के पूर्व जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी ने बताया कि भाकियू शीर्ष नेतृत्व के दिशा-निर्देश पर पुतला दहन कार्यक्रम में संशोधन किया गया है। 16 अक्टूबर की शाम छह बजे मेरठ जिले में 12 से अधिक स्थानों पर तीन-तीन पुतले दहन किए जाएंगे। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह व एक अन्य पुतला शामिल रहेगा। उन्होंने कहा कि मेरठ में 12 से अधिक स्थानों पर पुतला दहन होगा। इसमें किला-किठौर तिराहा पर दोपहर दो बजे पुतला दहन होगा। इसके अलावा सिवाया टोल, सकौती, परतापुर, छुर, मवाना, दबथुवा, करनावल, सरूरपुर व जैनपुर समेत 12 स्थानों पर शाम छह बजे पुतला दहन किया जाएगा।

कंकरखेड़ा में रावण संग जलेगा पाकिस्तान का पुतला

मोदीपुरम : कंकरखेड़ा की मार्शल पिच पर लगने वाले दशहरा मेले में इस बार रावण के पुतले संग पाकिस्तान के पुतले का भी दहन किया जाएगा। दो दिन पूर्व जम्मू कश्मीर में आतंकी मुठभेड़ में शहीद हुए सेना के जवानों और कुछ दिन पूर्व कंकरखेड़ा निवासी मेजर मयंक विश्नोई की शहादत को सलाम करने के लिए पाकिस्तान का पुतला फूंका जाएगा।

प्रेसवार्ता मेंं बताया  

गुरुवार को कंकरखेड़ा की खिर्वा रोड स्थित शगुन फार्म हाउस में कंकरखेड़ा व्यापार संघ के तत्वावधान में मित्र मंडल समिति द्वारा आयोजित प्रेसवार्ता में समिति के अध्यक्ष नीरज मित्तल ने बताया कि इस बार 81 फीट ऊंचा रावण और 71-71 फीट ऊंचे कुंभकरण व मेघनाद के पुतलों का दहन किया जाएगा। इनके अलावा चौथा पुतला पाकिस्तान और कोरोना महामारी के नाम का होगा। मेले के लिए दुकानें सजनी शुरू हो गई हैं। पार्षद राजेश खन्ना ने कहा कि मेला स्थल पर एंटी लार्वा का छिड़काव एवं फाङ्क्षगग कराई गई है। निशांक गर्ग, संजय त्रिपाठी, गणेश अग्रवाल, जानी मित्तल, गौरव गोयल, चिराग गुप्ता, करन चावला, पंकज चौधरी आदि थे।

 

Edited By: Prem Dutt Bhatt