सहारनपुर, जेएनएन। थीतकी गांव में पुलिस छापामारी के दौरान गोली लगने से हुई जीशान हैदर की मौत का मामला गृह मंत्रालय पहुंच गया है। गृह मंत्रालय के प्रमुख सचिव ने प्रदेश सरकार को जांच और कार्रवाई को निर्देशित किया है।

यह है मामला

गत चार सितंबर की रात्रि गोहत्या की सूचना पर थीतकी गांव के जंगल में पुलिस ने छापामारी की थी। इस दौरान गांव के ही जीशान हैदर की गोली लगने से मौत हो गई थी। पुलिस का कहना था कि भागते वक्त अपने ही तमंचे की गोली लगने से जीशान की मौत हुई है। मृतक की पत्नी अफरोज ने तीन उपनिरीक्षक समेत 13 पुलिसकर्मियों पर पति की हत्या करने का आरोप लगाते हुए जिले के आला अधिकारी समेत अल्पसंख्यक आयोग व गृह मंत्रालय को पत्र प्रेषित किया था।

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग व उत्तर प्रदेश अल्पसंख्यक आयोग ने मामले का संज्ञान लेते हुए जिले के आला अधिकारियों को इस संबंध में जांच किए जाने को निर्देशित किया था। फिलहाल सहारनपुर क्राइम ब्रांच जांच कर रही है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश पुलिस की शिकायतों से संबंधित 28 शिकायतकर्ताओं की सूची जारी की है। इसमें मृतक जीशान की पत्नी का नाम भी शामिल है। केंद्रीय गृह मंत्रालय से प्रदेश सरकार के गृह सचिव के नाम जारी पत्र में मामलों की जांच और कार्रवाई करने को निर्देशित किया गया है।

Edited By: Taruna Tayal