मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut Weather Update आसमान से बरस रही आग के बीच आज मंगलवार को कुछ राहत मिलने की उम्‍मीद है। मेरठ सहित एनसीआर में छाए रहेंगे आंशिक रूप से बादल, धूल भरी तेज आंधी चलने की भी संभावना है। इससे पारा भी कुछ नीचे गिरेगा। मेरठ सहित पूरे वेस्‍ट यूपी इनदिनों हीटवेव के प्रकोप से जनमानस हलकान है। तापमान लगातार बढ़ रहा है।

गर्म हवाओं के थपेड़ें

रविवार को यह 43.1 डिग्री रहा। लगातार दूसरे दिन उत्तरी पूर्वी गर्म हवाओं के थपेड़ें शरीर को झुलसा रहे थे। यह हवाएं बलूचिस्तान और रोगिस्तान के तप रहे रेतीले भागों से होती हुई आ रही हैं। अवकाश का दिन होने के बाद भी दिन में सड़कों और बाजारों में गर्मी का सन्नाटा छाया रहा। लोग घरों के बाहर निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

दोपहर बाद गर्मी सुबह और रात में राहत

वहीं मेरठ जनपद का मौसम सोमवार समय के साथ तेजी बदलता रहा। सुबह के समय आसमान में बादल छाए रहे और कई स्थानों पर बूंदाबांदी भी देखने को मिली। दोपहर बाद बादल ओझल हो गए और सूर्य देव का प्रकोप आरंभ हो गया। अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री रहा। तेज गर्मी से लोग बेहाल होते नजर आए। शाम को भी तेज हवाएं चली। निम्न दबाव का क्षेत्र बनने रात आठ बजे तेज हवाओं चली। जिससे मौसम एक बार फिर नरम हो गया। बिजनौर में आंधी चली। एनसीआर में मंगलवार को भी आंधी और बूंदाबांदी के आसार है। यह राहत कुछ देर की होगी। गर्मी से कोई विशेष राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 40 डिग्री के पार जाने की संभावना है।

सीजन का सबसे गर्म दिन

दिल्ली में गर्मी का और प्रचंड रूप देखने को मिला सफदरजंग में अधिकतम तापमान 45.6 और मुंगेश पुर में 49.2 डिग्री रिकार्ड किया गया। मेरठ में अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक रहा। यह सीजन का सबसे गर्म दिन था। शनिवार को तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक था। हालाकि न्यूनतम तापमान सामान्य 21.5 डिग्री पर बना रहा। हीटवेव की स्थितियां तब आती हैं जब तापमान सामान्य से चार से पांच डिग्री अधिक दो या उससे अधिक समय तक बना रहता है।

मौसम में परिवर्तन के संकेत

मौसम विभाग ने अगामी दो दिनों में दिल्ली और आसपास के इलाकों में धूल भरी आंधी और गरज चमक के साथ बारिश की आशंका जताई है। इससे मेरठ में भी तापमान में गिरावट आएगी। मौसम विज्ञानियों के अनुसार गर्मी के चलते कम दबाव का क्षेत्र विकसित हो रहा है। इसी कारण आंधी और बारिश की संभावना बन रही है। मई में है 45.8 डिग्री उच्चतम पारा अप्रैल में गर्मी ने 122 साल का रिकार्ड तोड़ा है। मेरठ में मई में सर्वाधिक तापमान 1973 को दर्ज किया गया था। तब 45.8 डिग्री पारा रिकार्ड किया गया थ। आधा मई बीता है गर्मी के मौजूदा तेवर से लोग आशंकित हैं।

तीन दिन तक रहेगी गर्मी से राहत

इस बीच पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से अगले तीन दिन के लिए मिल सकती भीषण गर्मी और लू से राहत। इसके बाद फिर से बढ़ेगा तापमान। 20 मई को वापस लू चलेगी। यलो अलर्ट भी कर दिया गया जारी, हालांकि राहत की बात यह कि 22 मई को मौसम दोबारा करवट लेगा। दिन भर छाए रहेंगे बादल, हो सकती है हल्की बारिश। हिमाचल प्रदेश में अगले दो दिन बारिश व ओलावृष्टि की संभावना। मौसम विभाग ने मंगलवार को लाहुल स्पीति को छोड़ प्रदेश के बाकी जिलों में 30 किमी की रफ्तार से आंधी चलने और ओलावृष्टि के साथ बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है। ऊंची चोटियों पर हिमपात की संभावना जताई गई है।

18 मई को प्रदेश में कुछ स्थानों पर वर्षा की संभावना जताई गई है। सोमवार को बारिश व ओलावृष्टि ने दिलाई थी गर्मी से राहत। उत्तराखंड में आज मंगलवार को करवट बदल सकता है मौसम। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार राज्य में कहीं-कहीं गर्जन के साथ ओलावृष्टि हो सकती है। आकाशीय बिजली चमकने के साथ तेज बौछारें पडऩे के आसार हैं। मौसम केंद्र ने 60 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से अंधड़ चलने की चेतावनी देते हुए इसका यलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को प्रचंड गर्मी से और राहत मिलने की संभावना है, पंजाब के कई जिलों में बारिश होने के आसार है।

Edited By: Prem Dutt Bhatt