मेरठ, जेएनएन। petrol price meerut today मेरठ में आज मंगलवार को भी लगातार 41वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी नहीं हुई। यानी करीब डेढ़ महीने के बाद भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्‍थिर ही हैं। लेकिन आम आदमी के लिए गैस को लेकर चोट पड़ी है। बीती शनिवार को रसोई गैस की कीमत 50 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ा दिए गए। वहीं अभी हाल ही में कमर्शियल रसोई गैस के दामों में 103 रुपये तक की बढ़ोत्‍तरी हो चुकी है। लेकिन आपको बात दें कि पेट्रोलियम कंपनियों ने एक मई से कमर्शियल रसोई गैस के दामों में 103 रुपये तक की बढ़ोत्‍तरी की है।

यह रहे रेट

मंगलवार को मेरठ में पेट्रोल के दाम 105.01 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम 96.58 रुपये प्रति लीटर ही रहे। आपको बता दें कि करीब तीन हफ्ते पहले धीरे-धीरे करके पेट्रोलियम कंपनियां पेट्रो उत्‍पादों के मूल्‍य में 10 रुपये तक की वृद्धि कर चुकी हैं। दूसरी ओर रसोई गैस के दामों में भी इजाफा किया जा चुका है। आम जन पर महंगाई की मार पड़ रही है। वहीं दूसरी ओर निर्माण सामग्री महंगी होने से अब घर बनाना भी महंगा हो गया है। पेट्रो मूल्‍य के अभी स्‍थिर रहने की ही संभावना है।

कमर्शियल गैस के दाम बढ़े

वहीं दूसरी ओर पेट्रोलियम कंपनियों ने कमर्शियल रसोई गैस के दाम बढ़ाकर आमजन पर महंगाई की एक मार कर दी। कमर्शियल गैस के दामों में एक मई से 103 रुपये की बढ़ोतरी कर दी गई। मेरठ में 19 किलोग्राम का कमर्शियल सिलेंडर अब 2347 रुपये का हो गया है। इसके पहले तक इसके दाम 2244 रुपये थे, यानी 103 रुपये का इजाफा।व्‍यावसायिक गैस के दाम बढ़ने का असर अन्‍य चीजों पर दिखेगा। सभी होटलों और रेस्‍टोरेंट में कमर्शियल गैस सिलेंडर का ही प्रयोग किया जाता है। आपको यह भी बता दें कि इसके पूर्व एक अप्रैल को कमर्शियल एलपीजी सिलेंडरों की कीमतों में 250 रुपये की बढ़त की गई थी। वहीं एक मार्च को एलपीजी की कीमतों में 105 रुपये की बढ़ोतरी हुई थी। बता दें कि अब से एक मई को उज्जवला दिवस के तौर पर मनाया जाएगा।

कच्चा माल और पेट्रोल- डीजल ने बढ़ाए दाम

निर्माण सामग्री बेचने वाले दुकानदारों के अनुसार यूपी विस चुनाव के बाद पेट्रोल-डीजल में लगातार बढ़ोतरी हो रही थी। हालांकि अभी बीस दिनों से दामों में इजाफा नहीं हो रहा है। पेट्रो उत्‍पादों के दामों में उछाल की वजह से माल वाहनों का किराया बढ़ा है। कच्चा माल भी सामग्री निर्माण करने वाली कंपनियों को महंगे दाम पर उपलब्ध हो रहा है। इन सब वजहों से चुनाव के बाद निर्माण सामग्री के दाम में भरी उछाल आया है। 

Edited By: Prem Dutt Bhatt