मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut News मतदाता सूची में दर्ज मतदाताओं से आधार नंबर एकत्रितकरण का कार्य किया जा रहा है। स्वैच्छिक रूप से एकत्र किए जा रहे आधार नंबर को लेकर 25 सितंबर को सभी स्कूल-कालेज व ऐसे भवन जहां मतदान केंद्र हैं उन्हें खोला जाएगा।

यह बताया उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने

इस दौरान बीएलओ मतदाता सूची का पुनरीक्षण का कार्य भी किया जाएगा। उप जिला निर्वाचन अधिकारी एडीएम प्रशासन अमित कुमार ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता सूची में सम्मिलित मतदाताओं से स्वैच्छिक रूप से आधार नंबर एकत्र किए जा रहे हैं। इसके लिए 25 सितंबर को विशेष शिविर का आयोजन किया जाएगा।

तो होगी कानूनी कार्रवाई

जनपद के समस्त स्कूलों और कालेज के साथ ऐसे भवन जिसमें मतदान केंद्र स्थापित हैं, उन्हें भी खोला जाएगा। प्रत्येक बूथ पर जिम्मेदार अधिकारी और बूथ लेविल अधिकारी मतदाता सूची और समस्त आवश्यक सामग्री के साथ उपस्थित रहेंगे। जांच के दौरान अगर कोई केंद्र बंद मिला तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। आधार नंबर एकत्रित करने के साथ बीएलओ मतदाता सूची में नए नाम शामिल करने के साथ मतदाता सूची के पुनरीक्षण से संबंधित कार्य भी करेंगे।

ईवीएम रखने के लिए जगह की तलाश में निकले डीएम

मेरठ : जिला प्रशासन ने साल के अंत में संभावित निकाय चुनाव की तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को डीएम संबंधित अधिकारियों के साथ ईवीएम रखने के लिए उपयुक्त स्थान की तलाश में निकले। अधिकारियों ने चार स्थानों का निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं की जांच की। शीघ्र ही जगह को अंतिम रूप दिया जाएगा।

कवायद शुरू कर दी

निकाय चुनाव संपन्न कराने के लिए जरूरी प्रक्रियाओं को मतदान से पहले पूरा करने की कवायद शुरू कर दी गई है। निकाय चुनाव में बड़ी संख्या में ईवीएम का प्रयोग होगा और मतदान के बाद ईवीएम को रखने के लिए सुरक्षित व उपयुक्त स्थान के साथ मतगणना कराने के लिए स्थान का चयन किया जाएगा। इसके लिए शुक्रवार को डीएम दीपक मीणा संबंधित अधिकारियों के साथ उपयुक्त स्थान का निरीक्षण करने के लिए निकले। डीएम ने आईटीआई साकेत, कंकरखेडा, कताई मिल व पांचली का निरीक्षण किया।  

Edited By: PREM DUTT BHATT