मेरठ, जेएनएन। Meerut Coronavirus News यह एक राहत वाली बात है कि मेरठ और आसपास के जिलों में कोरोना मरीजों की संख्‍या लगातार घट रही हैं। जिलों में शुक्रवार को कोरोना के मात्र 38 नए मामले आए हैं। मेरठ जिले में शुक्रवार को करीब चार हजार सैंपलों में सिर्फ सात कोरोना मरीज मिले। मेडिकल कालेज में महज चार मरीज और एनसीआर मेडिकल कालेज में नौ मरीज भर्ती हैं। ये उन अस्पतालों की स्थिति है, जहां सितंबर के दौरान रोजाना दो सौ से ज्यादा मरीज भर्ती रहते थे। चिकित्सकों का कहना है कि सेहत के लिहाज से अच्छे दिन यही हैं। महामारी की चंगुल से तेजी से निजात मिल रही है। कई माह बाद जिले में दस से कम नए केस मिले हैं। उधर, दूसरी लहर के दौरान प्रति सप्ताह 30 से ज्यादा मरीजों की मौत हुई, जो अब दो-तीन के बीच रह गई है।

पाजिटिव निकले नोडल अधिकारी, सीएचसी में हड़कंप

मेरठ के मवाना में सीएचसी के नोडल अधिकारी डा. देव सिंह शुक्रवार को कोरोना पाजिटिव पाए गए। इससे सीएचसी में हड़कंप मच गया। उन्हें घर पर ही क्वारंटाइन किया गया है। सीएचसी मवाना के डा. देव सिंह सीएचसी स्तर पर नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। इन्हीं की देखरेख में टीकाकरण का प्रथम चरण संपन्न हुआ था। सीएचसी प्रभारी डा. सतीश भास्कर ने बताया कि डा. देव सिंह को उनके मेरठ स्थित आवास पर क्वारंटाइन किया गया है।

बागपत में दो पाजिटिव

बागपत में सीएमओ डा. आरके टंडन ने बताया कि शु्क्रवार को मात्र दो लोग ही कोरोना की जकड़ में आए है, कोई डिस्चार्ज तो नहीं हुआ है। हर रोज दो या तीन लोग ही संक्रमित हो रहे है, जिन्हें कोविड-19 अस्पताल खेकड़ा में भर्ती कराया जा रहा है। संदिग्धों के नमूने लिए जा रहे है, उसमें ज्यादा पॉजिटिव केस नहीं मिल रही है। अभी ओर भी सावधानी बरतनी है। जब तक कोरोना पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाता है तब तक नियमों का पालन करना है। बीमार होने पर डरना नहीं है, बल्कि स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर जांच करवानी है।

बिजनौर में कोई रोगी नहीं

बिजनौर जिले में शुक्रवार को एक भी कोरोना संक्रमित नहीं मिला है। यह सप्ताह में दूसरी बार है जब कोई संक्रमित नहीं मिला है। मंगलवार को भी जिले में कोई रोगी नहीं मिला था। अब तक जिले में कुल 4404 संक्रमित मिल चुके है। जबकि चार रोगियों के ठीक होने के बाद स्वस्थ होने वालों की संख्या 4274 हो गई है। अब सक्रिय रोगियों की संख्या 63 रह गई है।जिले में शुक्रवार को एक भी कोरोना संक्रमित नहीं मिला है। अब रोगियों की कुल संख्या 4404 है। जिले में शुक्रवार को चार रोगी स्वस्थ होकर घर लौटे है। अब स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 4274 हो गई है। जिले में अब तक 67 लोगाें की कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मौत हो चुकी है। अब जिले में मात्र 63 सक्रिय रोगी शेष है।

बुलंदशहर में नौ मरीज

बुलंदशहर जिले में शुक्रवार को कोरोना के नौ नए मरीज मिले और आठ मरीज डिस्चार्ज किए गए। जिले में संक्रमितों की संख्या 6179 हो गई है। स्वास्थ्य अधिकारियों को मुताबिक जिले में शुक्रवार को दो हजार लोगों की जांच की गई। इसमें मात्र नौ मरीज मिले। इसमें दो मरीज खुर्जा, सिकंदराबाद, लखावटी, बीबीनगर और शिकारपुर में एक-एक मरीज मिला। बुलंदशहर शहरी क्षेत्र में तीन मरीज मिले। जिले में अब तक 6029 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर पहुंच चुके हैं। 92 लोगों की अब तक कोरोना ने जान ली है और 58 एक्टिव मरीजों का इलाज चल रहा है।

मुजफ्फरनगर में दस में वायरस

मुजफ्फरनगर जिले में शुक्रवार को 10 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। बताया कि 23 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ्य होेकर हास्पिटल से डिस्चार्ज हो गए। सीएमओ डा. प्रवीण कुमार चोपड़ा ने बताया कि लोगों को लगातार कोविड-19 से बचाव के लिए जागरूक किया जा रहा है। प्रेरित किया जा रहा है एक-दूसरे से कम से कम छह फिट की शारीरिक दूरी बनाकर रखें।

सहारनपुर में 9 में संक्रमण

सहारनपुर जिले में शुक्रवार को कोरोना के 9 नए मरीज मिलने से मरीजों की संख्या में शुक्रवार को भी बढ़ोतरी हुई है। इसका कारण जनता द्वारा कोरोना गाइड लाइन के नियमों का पालन न होना माना जा रहा है। लोग बिना मास्क के अपने घर से निकल रहे हैं और शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे हैं। इससे वह अपने जीवन के साथ-साथ दूसरों की जान को भी खतरा पैदा कर रहे हैं। गुरुवार को आई रिपोर्ट के अनुसार 9 नए कोरोना केस मिले है। जबकि 5 मरीजों को स्वस्थ्य होने के बाद घर भेज दिया गया है। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने बताया कि जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 10 हजार 311 हो चुकी है।

शामली में एक संक्रमित

शामली जिले में शुक्रवार को एक कोरोना संक्रमित मिला है। कुल संख्या 3630 हो गई है। दो मरीज स्वस्थ हुए हैं और सक्रिय केस अब 21 हैं। जिले में कोरोना के अब काफी कम केस मिल रहे हैं और टीकाकरण भी शुरू हो गया है। हालांकि चिकित्सकों की सलाह है कि सावधानी के साथ कोई समझौता नहीं करना है। जिले में 2.36 लाख से अधिक लोगों की जांच हो चुकी है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप