मेरठ, जेएनएन। जम्मू कश्मीर के शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर मयंक विश्नोई की अस्थियों को उनकी पत्नी और पिता ने हरिद्वार गंगाजी में विसर्जित किया। अस्थियां विसर्जित करते हुए पत्नी स्वाति की आंखों से अश्रुधारा बह निकली। वृद्ध पिता भी बेसुध हो गए।

शहीद मेजर मयंक विश्नोई के जीजा जगत गुप्ता ने बताया कि बुधवार को शहीद की पत्नी स्वाति, पिता वीरेंद्र विश्नोई, बहन अनु व तनु और छोटे जीजा समेत मेजर के ससुराल पक्ष के लोग अस्थियां लेकर हरिद्वार गंगाजी पहुंचे। वहां कई ब्राह्मणों ने अस्थियां विसर्जन की क्रिया को पूरा कराया। शहीद के स्वजन और रिश्तेदारों के साथ उनके दो मेजर दोस्त भी मौजूद थे।

भाजपा नेताओं ने शहीद मेजर के स्वजन को दी सांत्वना : राजनेता और प्रशासनिक अधिकारी कंकरखेड़ा के शिवलोकपुरी में शहीद मेजर मयंक विश्नोई के आवास पर पहुंचकर स्वजन को सांत्वना दे रहे हैं। बुधवार को भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल, भाजपा प्रदेश मंत्री चंद्रमोहन, मेरठ महानगर अध्यक्ष मुकेश सिघल, मेरठ दक्षिण विधायक डा. सोमेंद्र तोमर ने शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित कर स्वजन से मिलकर शोक संवेदनाएं व्यक्त की।

जमीयत उलमा-ए-हिद ने दी सांत्वना : जमीयत उलमा-ए-हिद का प्रतिनिधिमंडल नायब शहर काजी जैनुर राशिदीन के साथ शहीद मेजर मयंक विश्नोई के घर पहुंचा और स्वजन से मिलकर शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं। नायब शहर काजी ने शहीद की मां से कहा कि आप बड़ी भाग्यशाली हैं। आपके बेटे ने देश के लिए कुर्बानी दी है। बेटे की कमी तो पूरी नहीं हो सकती लेकिन आज शहीद को पूरा देश सलाम कर रहा है। इस दौरान हाजी शीराज रहमान, मौलाना शाहनवाज, हाजी इमरान सिद्दीकी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran