मेरठ, जेएनएन। फिर मेरिया ओ जुगनी नी... पंजाबी गायक नौड़ी सिंह जैसे ही पंजाबी जुगनी गाना गाते हुए मंच पर पहुंचे तो मेरठवासियों ने जोरदार तालियों ने उनका स्वागत किया। अमृतसर के रहने वाले पंजाबी सिंगर नौड़ी सिंह को किसी पहचान की जरूरत नहीं है। दिलेर मेहंदी को अपना गुरु मानने वाले नौड़ी सिंह ने दिलेर मेहंदी का बोलो तारा रारा... नी मै जाना जोगी नाल... गीत से श्रोताओं का दिल खोलकर मनोरंजन किया।

सुरेश खन्‍ना ने किया पूजन

यह खास मौका था गुरुवार को वेस्ट एंड रोड स्थित गुरु तेग बहादुर पब्लिक स्कूल में पंजाबी समाज के खास कार्यक्रम लोहड़ी महोत्सव का। कार्यक्रम की शुरुआत चिकित्सा शिक्षा विभाग मंत्री सुरेश खन्ना ने लोहड़ी पूजन कर किया। साथ ही शहरवासियों को लोहड़ी पर्व की ढेरों बधाईयां भी दी। उन्होंने कहा कि पंजाबी समाज देश सेवा के लिए हमेशा आगे रहा है। लोगों ने धर्म की रक्षा के लिए कई समझौते किए लेकिन शौर्य के प्रतीक गुरु तेग बहादुर कुर्बानी कबूल की लेकिन उन्होंने धर्म परिवर्तित नहीं किया। पंजाबी समाज हमेशा से दान और सेवा के लिए दुनिया में प्रसिद्ध है। गुरु नानक जी महाराज की शिक्षाएं है कि हम तीर्थ करें दान करें इससे पंजाबी समाज को दुनिया में अलग पहचान मिली हैं। इसलिए पंजाबी समाज सबसे सम्पन्न समाज है, और अन्य समाज सेवा कार्यो में बहुत पीछे हैं।

श्रोताओं को झूमने पर किया मजबूर

लोहड़ी महोत्सव को आगे बढ़ाते हुए नौड़ी सिंह ने दमादम मस्त कलंदर ..... और नुसरत फतेह अली खां के कई पंजाबी गीत गाकर श्रोताओं को झूमने पर मजबूर कर दिया। खुद का लिखा गीत कुडी ने... भी सुनाया। नौड़ी सिंह के गीतों की सबसे बड़ी खासियत है कि वह अधिकतर स्वयं के लिखे गीत ही गाते हैं। यहीं वजह है कि आज पंजाबी गायकों में वह अपनी अलग पहचान रखते हैं। नौड़ी सिंह के पंजाबी गीतों की मस्ती का आलम यह था कि मंच के आगे रंग-बिरंगी लाइटों में न सिर्फ बच्चे डांस कर सेल्फी ले रहे थे। बल्कि महिलाएं और उम्र दराज लोग भी उनकी गीतों पर मदमस्त होकर डांस कर रहे थे।

विरासत में मिली संगीत की शिक्षा

नौड़ी सिंह का कहना कि वह अपने सभी गाने स्वयं ही लिखते है। पहले वह एक गीतकार है और फिर गायक। संगीत की शिक्षा उन्हें अपने पिता से मिली है। वह बहुत अच्छे पंजाबी सिंगर है। अमृतसर के रहने वाले नौड़ी सिंह कहते है कि उन्हें गुरुमुखी और शाहमुखी दोनों ही भाषाओं में गीत गाना और लिखना पसंद है। मैंने दिलेर मेहंदी और गुरदास मान को सुनकर ही संगीत और गायकी की शिक्षा ली है। वह पहली बार मेरठ में स्टेज शो करने आए है, और यह मेरे लिए गौरव की बात है।

यह रहे मौजूद

कार्यक्रम में संघचालक दर्शन लाल अरोड़ा, महानगर संघचालक विनोद भारती, देवेंद्र नागपाल, रोमी शिव, पंजाबी समाज के अध्यक्ष हरविंदर सिंह, नीरज नारंग, लव खुराना, तरुण चोपड़ा, कैंट बोर्ड उपाध्यक्ष विपिन सोढ़ी और दुर्गेश गुलाटी सहित कई गण्यमान्य लोग उपस्थित रहे।  

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस