मेरठ, ऑनलाइन डेस्‍क। PM Kisan Samman Nidhi Yojana देश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि भारत सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक योजना है। इस योजना के अन्तर्गत छोटे और सीमान्त किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है, जिनके पास 2 हेक्टेयर (4.9 एकड़) से कम भूमि हो। इस योजना के तहत सभी किसानों को न्यूनतम आय सहायता के रूप में प्रति वर्ष 6 हजार रूपया मिल रहा है। एक दिसम्बर 2018 से लागू यह योजना किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है।

लेकिन ये क्‍या, किसानों का नाम गायब

सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए किसान सम्मान निधि (Samman Nidhi Yojana) योजना शुरू की थी। योजना के तहत मेरठ मंडल में 9,67,904 को पहली किस्त के रूप में दो हजार रुपये की धनराशि उनके बैंक खातों में भेजी गई। हैरानी करने वाली बात है कि किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त जारी होने तक 4.90 लाख से अधिक किसानों का नाम किसान सम्मान निधि की सूची से कम हो गए और मिलने वाली धनराशि भी सौ करोड़ से कम हो गई।

यह वजह आई सामने

विभिन्न कारण बताकर कृषि विभाग ने अपनी सूची तैयार की और नाम हटाए जाने का अहम कारण किसानों को ही बताया। आधार नंबर और मोबाइल नंबर अपडेट न करना, ईकेवाइसी न कराना और जांच में अपात्र किसानों का नाम सामने आने पर उन्हें हटाने आदि मुख्य कारण बताए हैं। अब 30 सितंबर तक जारी होने पर वाली 12वीं किस्त का किसान इंतजार कर रहे हैं। इसीलिए किसानों को इसका लाभ लेने के लिए केवाईसी अपडेट रखना चाहिए।

छह हजार हर साल खाते में

बता दें कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Samman Nidhi Yojana) के तहत छह हजार रुपये प्रति वर्ष प्रत्येक पात्र किसान को तीन किश्तों में भुगतान किया जाता है और सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में जमा हो जाती है। इस मतलब हर चार माह के बाद किसान को 2 हजार की सहायता राशि दी जा रही है और इस योजना को काफी सराहा भी गया है। किसानों को इससे लाभ मिला है।

20 हजार करोड़ का था प्रावधान  

सरकार द्वारा इस विशेषा योजना की शुरुआत 2018 के रबी सीजन में की गई थी। उस समय सरकार ने इसके लिए 20 हजार करोड़ रुपये का अग्रिम बजटीय प्रावधान करा लिया था, जबकि योजना पर सालाना खर्च 75 हजार करोड़ रुपये आने का अनुमान था। लेकिन देश में किसानों की संख्या अधिक होने के कारण एवं इस योजना में किसानो की दिलचस्पी होने के कारण सालाना खर्च बढ़ गया।

छोटे किसानों को योजना का ऐसे मिला लाभ

छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य इनपुट की उपलब्धता में सुविधा हो रही है। इन छोटे किसानों में ज्यादातर सीमान्त हैं, जिनका खेती से पेट भरना मुश्किल है। लेकिन इस योजना के आने के बाद किसान इसका लाभ लेकर उत्‍साहित हैं।

इस तरह आनलाइन किया जा सकता है आवेदन

किसान सम्मान निधि योजना का क्रियान्वयन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत किया जाता है, योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। लेख के अंतर्गत पीएम किसान योजना से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने का प्रयास किया। 

Edited By: PREM DUTT BHATT

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट