मेरठ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि कोरोना अभी नहीं जाने वाला है, बीमारी के साथ चलते हुए ही इसे शिकस्त देनी होगी। उत्तर प्रदेश ने कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में बड़ी नजीर पेश की है। कहा कि मोदी सरकार ने दृढ़ इच्छाशक्ति से वक्त पर लॉकडाउन घोषित कर बड़ी संख्या में संक्रमण से लोगों की जान बचाई है। कोरोना को वैश्विक त्रसदी बताया। कहा कि महामारी के दौरान जान बचाना सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इसके बाद व्यापार का पहिया भी चल पड़ेगा। उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा अनलॉक-1 की सुविधा न देने और बाजार आदि न खोलने के सवाल पर कहा कि जिला प्रशासन इस पर निर्णय ले रहा है। शासन भी समय पर समीक्षा कर रहा है, कहीं कोई मनमानी नहीं चलेगी।

वेबिनार पर मेरठ के पत्रकारों से वार्ता करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने सबसे पहले मोदी सरकार के एक साल पूरा होने पर उपलब्धियों का बखान किया। कहा कि मोदी सरकार ने एक साल में तीन तलाक, जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने और राम मंदिर के मसले पर निर्णय की दिशा में बेहतर माहौल बनाया। समाज के सभी वगोर्ं के लिए काम किया गया। कोरोना पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए माना कि मेरठ, आगरा और कानपुर में संक्रमण तेजी से बढ़ा। कहा, मेरठ में मौतें ज्यादा हुई हैं, जो चिंता का विषय है।

कहा कि पहले तब्लीगी जमात की वजह से संक्रमण बढ़ा और बाद में सब्जी मंडी से। यह पूछने पर कि हॉटस्पॉट में भी बाद में सैंपलिंग बंद करने से कोरोना के अंतिम मरीज तक कैसे पहुंचा जा सकेगा, केशव प्रसाद ने कहा कि सिर्फ लक्षणों वाले मरीजों की ही जांच संभव है।

बंद पड़े व्यापार पर कहा कि सरकार लॉकडाउन के बीच व्यापार की सभी संभावनाओं को खोल रही है। मेरठ में जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों के बीच भारी खींचतान पर उठे प्रश्न पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा नहीं होगा, फिर भी मंगलवार शाम सांसद समेत सभी विधायकों से बात की जाएगी। कहा कि योगी सरकार ने रिकॉर्ड तेजी से कोरोना पर नियंत्रण किया है। प्रवासियों के आने से संक्रमण का खतरा बढ़ा है, लेकिन उन्हें क्वारंटाइन करने के लिए गांवों में कई केंद्र बनाए गए हैं। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस