मेरठ, जेएनएन। बाजार खोलने को लेकर संयुक्त व्यापार संघ के दोनों गुट आमने-सामने आ गए हैं। कुछ व्यापारी खुद बाजार खोलना चाहते हैं तो कुछ शासन-प्रशासन की गाइडलाइन के पक्ष में हैं। संघ के दोनों गुटों के बीच सहमति नहीं बन पाने से आम व्यापारी असमंजस में है।

इन्होंने कहा

26 मई को बाजार खुलने पर निर्णय नहीं हुआ तो हम अपने स्टैंड पर कायम हैं। व्यापारी खुद बाजार खोले जाने का निर्णय लेगा। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी साफ-सफाई के लिए बाजार खोलने पर सहमत हो गए हैं। संभवत: 26 को दोपहर एक से चार बजे तक समय दिया जाएगा।

-नवीन गुप्ता, अध्यक्ष, संयुक्त व्यापार संघ

शहर के तमाम क्षेत्र संक्रमण से मुक्त है। ऐसे क्षेत्रों का चिह्निकरण कराकर बाजार खुलवाए। व्यापारियों का हित देखते हुए प्रशासन को हठधर्मिता नहीं दिखानी चाहिए।

-संजय जैन, महामंत्री, संयुक्त व्यापार संघ

आबूलेन बाजार खोलने की बावत व्यापारियों से सुझाव मांगे गए हैं। व्यापारी जानबूझ कर खुद जोखिम नहीं लेना चाहता है। प्रशासन के दिशा निर्देश के अनुसार बाजार खोले जाएंगे।

सरदार नरेंद्र सिंह, उपाध्यक्ष संयुक्त व्यापार संघ

एक बार बाजार खोलने की घोषणा कर दी तो फिर अधिकारियों से मिलने का कोई औचित्य नहीं है। हमने पहले ही अधिकारियों से ईद के बाद बाजार खोलने की मांग की है।

अजय गुप्ता ,अध्यक्ष संयुक्त व्यापार संघ

व्यापार के साथ कोरोना संक्रमण को भी रोकना है। नई गाइड लाइन के अनुसार एक जून से बाजार खुलने की संभावना है। धमकी देना उचित नहीं है।

सरदार दलजीत सिंह, महामंत्री, संयुक्त व्यापार संघ

जिन क्षेत्रों में संक्रमण नहीं है, वहां पर बाजार नियम और प्रावधानों को लागू करते हुए खुलना चाहिए। बाजार संक्रमण फैलने का माध्यम न बने, इसका ध्यान रखना होगा।

-कमल ठाकुर, उपाध्यक्ष, संयुक्त व्यापार संघ

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस