मेरठ, [जागरण स्‍पेशल]। Dengue mosquito इन दिनों डेंगू का मच्छर डंक मार रहा है। बड़ी संख्या में डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है। मलेरिया विभाग ने डेंगू मरीजों की क्षेत्रवार रिपोर्ट तैयार की है। इन क्षेत्रों में एंटी लार्वा सर्वे कराकर लोगों को डेंगू से बचाव के बारे में जागरुक किया जा रहा है। मलेरिया विभाग का दावा है कि सर्वे में मरीजों में डेंगू का लार्वा पाया गया है।  डेंगू वायरस जनित बीमारी है, जो एडीज मच्छर के काटने से होती है। डेंगू का मच्छर गंदे पानी के बजाए साफ पानी में रहता है। साफ पानी घर के अंदर या मकान के आसपास जमा पानी हो सकता है।

सबसे ज्‍यादा मरीज

मलेरिया विभाग की सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक गमलों, कूलरों, कंटेनर, टायरों, फ्रिज के पीछे की प्लेट में, छत के ऊपर पड़े कबाड़ में डेंगू का लार्वा पाया गया है। इसके कारण इस साल डेंगू के मरीज लगातार मिल रहे हैं। शनिवार को छह मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें मेरठ के पांच और एक बुलंदशहर का मरीज है। मेरठ से जैदी फार्म के समीर (15), गंगानगर बिंदर (55), लिसाड़ी गेट की आशमा (26), साकेत अशोक वाटिका के शिवम (22) और लक्खीपुरा के शावेज (16) आदी मरीजों की रिपोर्ट डेंगू पॉजिटिव आई है। अब डेंगू पीडि़तों की संख्या 63 तक पहुंच गई है।

शहरी क्षेत्र में यहां मिले मरीज

कंकरखेड़ा, जाहिदपुर, कुंडा, तारापुरी, जयभीमनगर, इस्लामाबाद, कसेरुबक्सर, रजपुरा, साबुन गोदाम, मकबरा डिग्गी, मलियाना, पुलिस लाइन, पल्हेड़ा, गुदड़ी बाजार, ब्रह्मपुरी, लिसाड़ी गेट, साकेत, जैदी फार्म, गंगानगर, लल्लापुरा, लक्खीपुरा, भूड़बराल, संजय नगर आदि क्षेत्रों से डेंगू पॅाजिटिव केस सामने आए हैं।

ग्रामीण क्षेत्र में यहां मिले मरीज

भावनपुर, सरूरपुर, सरधना, परीक्षितगढ़, खरखौदा, हस्तिनापुर, जानी, मवाना, माछरा, दौराला आदि क्षेत्र से डेंगू पॉजिटिव केस सामने आए हैं।

16 से 25 साल के युवा हो रहे शिकार

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि कुल 63 केस में 26 मरीज 25 साल तक के मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक इस उम्र के युवा शाम को घर से बाहर निकलते हैं। शाम को डेंगू का मच्छर अधिक काटता है। युवा अक्सर फुल कपड़े नहीं पहनते हैं और मच्छर डंक मार देता है।

डेंगू के ये हैं लक्षण

-तीव्र बुखार आना।

-शरीर पर लाल चकत्ते पडऩा।

-सिर, हाथ-पैर और बदन में तेज दर्द।

-भूख का न लगना।

-उल्टी-दस्त आदि की शिकायत।

-प्लेटलेट्स में तेजी से गिरावट आना।

ऐसे करें बचाव

-चप्पल के बजाए जूते पहने।

-शाम को घर से निकलते समय शरीर को कपड़े से ढककर रखें। पूरी बांह की शर्ट औब र फुल पैंट पहने।

-मच्छरदानी समेत मच्छर से राहत पाने के अन्य उपायों का प्रयोग करें।

-कूलर, कंटेनर, टायर, गमले में पानी भरा हो तो फौरन हटा दें।

इस पर भी करें गौर

-235 स्थानों पर जिले में सर्वे के दौरान मिला डेंगू का लार्वा।

- 63 मरीज जिले से डेंगू के एक जनवरी से 12 अक्टूबर तक पाए गए।

-153 मरीज जिले में डेंगू के वर्ष 2018 में पाए गए थे।

-660 मरीज जिले में डेंगू के वर्ष 2017 में पाए गए थे।

इनका कहना है

डेंगू को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। जहां डेंगू के मरीज मिले हैं, वहां टीमें भेजकर लार्वा सर्वे, लार्वा स्प्रे, फागिंग कराई गई है। निरंतर टीमें वहां नजर रखे हैं। जिन क्षेत्रों से केस नहीं मिले हैं, वहां भी टीमों को अलर्ट किया गया है।

- डॉ. राजकुमार, सीएमओ मेरठ।  

Posted By: Prem Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप