मेरठ (जेएनएन)। सियासत में तल्ख बयानबाजी का पारा चढ़ता जा रहा है। नाथूराम गोडसे पर आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहाद-उल मुसलमीन (एआइएमआइएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के दिए गए बयान पर राजनीतिक उबाल शुरू हो गया है। हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक कुमार शर्मा व जिलाध्यक्ष अभिषेक अग्रवाल ने मामले में आपत्तिजनक बयान दिए हैं।

मंगलवार को संयुक्त प्रेसवार्ता में कहा कि नाथूराम गोडसे हिंदू राष्ट्र के रक्षक थे। उन्हें आतंकवादी कहना अपमान है। उन्होंने कहा कि हिंदू आतंकवादी नहीं होता। ऐसे नेताओं को गाली देने वालों को बंदूक से जवाब देना जानते हैं, क्योंकि हम गांधी का चरखा नहीं चलाते हैं और गंदी भाषा का इस्तेमाल भी नहीं करते हैं। एलान किया कि अगर ओवैसी और उनके साथी मेरठ आए तो उन्हें जूतों की माला पहनाई जाएगी। ओवैसी ने नाथूराम गोडसे के बारे मेंं जो बयान दिया है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 

By Nawal Mishra