जेएनएन, मेरठ: करोड़ों की चरस, गांजा और भांग कई जिलों और राज्यों में खपा चुके राजू चौहान और सतेंद्र पर गैंगस्टर लगेगा। पुलिस की जांच में सामने आया कि ये मेरठ के अलावा पंजाब, हरियाणा और ओडिशा में भी नशे की खेप पहुंचाते थे। इनका गैंग शहर के 11 स्थानों पर ड्रग्स की बिक्री करता था। दोनों के लालकुर्ती स्थित गोदाम से बड़ी मात्रा में नशे की खेप बरामद की गई थी। पुलिस इनको गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

सितंबर में लालकुर्ती थानाक्षेत्र के घोसी मोहल्ले में मूलचंद के घर पर छापा मारकर पुलिस ने 29 किलो गांजा, चार किलो चरस, 220 किलो भांग बरामद की थी। यह नशे का धंधा पाबलीखास, मोदीपुरम का सतेंद्र और मवाना का राजू चौहान करता था। पुलिस ने गोदाम से चार आरोपितो को गिरफ्तार किया था। इसके सात दिन बाद राजू और कुछ दिन बाद सतेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया।

एएसपी इरज राजा ने बताया कि दोनों नशे के कुख्यात सौदागर हैं। इनका नेटवर्क कई प्रदेशों तक फैला हुआ है। ऐसे में दोनों आरोपितों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जा रही है, ताकि जमानत न मिल सके। पड़ताल की जा रही है कि इनको नशे की खेप कौन पहुंचाता था। शहर के जिन पाश इलाकों में वीआइपी को नशे की खेप पहुंचाई जा रही थी, उसका भी रिकार्ड खंगाला जा रहा है। 12 अपराधियों को किया जिला बदर

जिला-प्रशासन ने 12 अपराधियों को जिला बदर किया है। इनमें सात के खिलाफ गोवध अधिनियम के तहत मुकदमे दर्ज हैं। अन्य पर आबकारी व पास्को अधिनियम के तहत मुकदमे दर्ज हैं।

एडीएम प्रशासन मदन सिंह गाब्र्याल ने यह आदेश जारी किये हैं। इनमें जुल्फिकार अली ग्राम सिसौला कला थाना जानी, साजिद ग्राम गैस गोदाम के पीछे कस्बा सिवालखास थाना जानी, रहीसुद्दीन कस्बा सिवालखास थाना जानी, युसुफ, मुन्ना व जानू ग्राम मढि़याई थाना सरधना, यामीन ग्राम जेई थाना भावनपुर, मोनू ग्राम फतेहपुर नारायण थाना किठौर, मुख्तार ऊर्फ मुख्खी ग्राम कुंडा थाना परीक्षितगढ़, कृष्ण ग्राम रामपुर मोती थाना सरूरपुर, फिरोज ग्राम सकौती टांडा थाना दौराला व अरुण ग्राम रुहासा थाना दौराला शामिल हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस