मेरठ, [विवेक राव]। Fitness Mantra सुबह सर्द भरे मौसम में ठंड की वजह से कई लोग बाहर निकलने से डरते हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस सर्द भरी सुबह में भी खुद को फिट रखने के लिए जमकर दौड़ लगाते हैं । जिससे उन्हें ठंड नहीं लगती। बल्कि ठंड के भी पसीने छूट जाते हैं। कोविड के दौरान जब लाकडाउन की स्थिति बनी थी तो एकाएक लोग घरों में कैद हो गए थे। बाहर निकलना बंद हो गया था। अब जब स्थिति सामान्य होने के साथ लोग फिर से पार्क और बाहर अभ्यास के लिए निकल रहें हैं। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष डॉक्टर कुलदीप उज्जवल जबसे स्थिति सामान्य हुई उन्होंने अपनी दिनचर्या को फिर से व्यवस्थित कर लिया है। उन्होंने अपनी अपनी दिनचर्या को साझा भी किया है।

सुबह 5:00 बजे उठ जाते हैं डा. उज्जवल

डा. कुलदीप उज्ज्वल ठंड का मौसम हो या फिर गर्मी का मौसम नियमित रूप से सुबह पांच बजे उठ जाते हैं। दैनिक नित्य कर्मों से निपटकर साइकिल उठाते हैं और सीसीएस यूनिवर्सिटी निकल जाते हैं। यूनिवर्सिटी में पहले साइकलिंग करते हैं। उसके बाद सीसीएसयू के तपोवन में दौड़ लगाते हैं। रोजाना वह करीब 10 किलोमीटर वर्कआउट कर लेते हैं। वह अपने बेटे को भी अपने साथ दौड़ लगाने के लिए ले जाते हैं।

योग का भी भरपूर अभ्यास

डा. उज्ज्वल बताते हैं कि वह सुबह दौड़ लगाने के साथ योग का अभ्यास भी करते हैं। इसमें सूर्य नमस्कार, अनुलोम विलोम, कपालभाती और ॐ का उच्चारण जरूर करते है।वह कहते हैं कि यह सब करने से लगता है कि अगर जीवन में यह नहीं किया तो जीवन निरर्थक है। सुबह अभ्यास से पूरे दिन शरीर में ताजगी बनी रहती है। पूरे दिन के काम में भागदौड़ के बावजूद शाम को कभी थकावट नहीं होती। बहुत सकून की नींद आती है।

बीपी हो गया कंट्रोल

वह बताते हैं कि पहले ब्लडप्रेशर बहुत हाई रहता था। जो अब पिछले कई सालों से एकदम नार्मल है। यह सब सुबह की दौड़, योगाभ्यास की वजह से ही हो पाया है। इसलिए मेरा मानना है कि हर किसी को सुबह कोई न कोई वर्कआउट जरूर करना चाहिए।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021