मेरठ, जेएनएन। दिल्ली-मेरठ एनसीआर क्षेत्र के लाखों लोगों के सफर को आसान कर देने वाले रैपिड रेल कॉरिडोर के लिए अब मेरठ शहर में भी काम ने तेजी पकड़ ली है। बुधवार को दिल्ली रोड पर पेड़ों की कटाई शुरू होने के साथ ही सीएनजी व पेयजल पाइप लाइन के सर्वे के लिए गड्ढे भी खोदे गए।

पहले किया था संयुक्‍त सर्वे

नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) के अधिकारियों ने नगर निगम, एमडीए, गेल गैस व वन विभाग के अधिकारियों के साथ विगत दिनों संयुक्त सर्वे किया था। इसके बाद बुधवार को रैपिड रेल कॉरिडोर के लिए रिठानी से लेकर सुभाष होटल के बीच दिल्ली रोड पर पेड़ों की कटाई शुरू हो गई। सुबह से ही वन निगम की तीन टीमें यूनिट इंचार्ज के निर्देशन में पेड़ों की कटाई में जुटी रहीं। परतापुर फ्लाईओवर से लेकर मेवला फ्लाईओवर तक सड़क के दोनों तरफ के पेड़ों की कटाई होनी है। सुबह रिठानी से लेकर सुभाष होटल तक करीब 25 पेड़ काटे गए। इसमें यूकेलिप्टस, नीम समेत अन्य पेड़ काटे गए हैं। हालांकि विद्युत लाइन के चलते पेड़ों को काटने में परेशानी आ रही है।

गड्ढे खोदने का काम शुरू

वन निगम के कर्मचारी केवल उन्हीं पेड़ों की कटाई कर रहे हैं, जो विद्युत लाइन से दूर हैं। वहीं, एनसीआरटीसी के इंजीनियरों ने गड्ढे खोदने का काम भी शुरू करा दिया है। ये गड्ढे इसलिए खोदे जा रहे हैं, ताकि यह पता किया जा सके कि किस स्थान से सीएनजी पाइप लाइन व पेयजल पाइप लाइन गुजर रही है। मेवला फ्लाईओवर से शॉपरिक्स मॉल चौराहे के बीच सर्वे का काम चल रहा है। इस दौरान गेल गैस के अधिकारी भी मौके पर मौजूद रहे। एनसीआरटीसी के अधिकारियों की मानें तो सड़क चौड़ीकरण व पिलर खड़े करने से पहले यह प्राथमिक सर्वे होता है। जो पाइपलाइन पिलर वाले स्थान से गुजर रही होगी, उसे शिफ्ट किया जाएगा। शेष पाइपलाइन यथावत रहेगी।

एक्सप्रेस-वे के काम में भी आई तेजी

निर्माण कार्यो से रोक हटने के बाद दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के काम ने बुधवार को रफ्तार पकड़ ली। परतापुर तिराहे पर दिल्ली रोड पर ओवरब्रिज के पहले हिस्से को मुख्य रोड से जोड़ने का काम शुरू हो गया है। मिट्टी समतल करने के साथ गिट्टी डालने का काम हुआ। वहीं, सड़क चौड़ीकरण के लिए भी मिट्टी डालने का काम किया जा रहा है। एनएचएआइ के अधिकारियों की मानें तो दिल्ली रोड के दूसरे हिस्से के ओवरब्रिज पर गार्डर रखने के लिए पहले हिस्से को तैयार किया जा रहा है। यह मार्ग तैयार होते ही रूट डायवर्जन किया जाएगा। 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस