मेरठ, [अमित तिवारी]। लॉकडाउन के दौरान हर किसी के पास समय खूब है। स्कूली बच्चे हों या उनके परिजन, हर कोई मनोरंजन और जानने व सीखने के नए-नए पैतरे आजमा रहा है। ऐसे सभी लोगों को डिजिटल लाइब्रेरी का रुख करना चाहिए, जहां लाखों-करोड़ों किताबें विभिन्न विषयों से संबंधित उपलब्ध हैं। सीबीएसई की डिजिटल लाइब्रेरी के पोर्टल पर छात्र-छात्राओं के पढऩे की पर्याप्त सामग्री के साथ ही डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ इंडिया, नेशनल साइंस डिजिटल लाइब्रेरी, यूनिवर्सल डिजिटल लाइब्रेरी, इंटरनेशनल चिल्ड्रंस डिजिटल लाइब्रेरी आदि तक पहुंचने के लिंक भी साझा किए गए हैं।

परीक्षा से प्रतियोगिता तक

सीबीएसई की डिजिटल लाइब्रेरी में बच्चों, शिक्षकों व परिजनों तक के लिए ढेरों सामग्री उपलब्ध हैं। छात्रों के लिए वेब डायरेक्ट्री, स्टडी मैटेरियल, बोर्ड परीक्षा के प्रश्न-पत्र, प्रतियोगी परीक्षा में जेईई के एग्जाम रिसोर्स, ई-टेक्स्ट बुक, ई-बुक्स, ई-जरनल्स, ई-डाटाबेस, करियर गाइडेंस दिया है। वहीं शिक्षकों के लिए टीचिंग रिसोर्स, एजुकेशनल साफ्टवेयर, प्रोफेशनल डेवलपमेंट के वेबसाइट लिंक, ई-शिक्षा आदि उपलब्ध है। परिजनों के लिए करियर गाइडेंस, एग्जाम एलर्ट और स्कूल ट्यूब का लिंक दिया है।

नेशनल लाइब्रेरी में चार करोड़ से अधिक कंटेंट

नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ इंडिया का सीबीएसई वेबसाइट पर दिया लिंक नहीं खुल रहा है। उसकी नई वेबसाइट ठीक से काम कर रही है। इस वेबसाइट पर कुल 4,79,44,566 तरह के कंटेंट उपलब्ध हैं। इसमें पाठक अपनी रुचि के अनुसार, विषय अनुसार, स्रोत अनुसार और शैक्षिक संसाधन अनुसार सर्च कर सकते हैं। स्कूल व कॉलेज इस वेबसाइट पर छात्रों का बल्क रजिस्ट्रेशन भी करा सकते हैं। इसकी वेबसाइट \क्रठ्ठस्रद्य.द्बद्बह्लद्मद्दश्च.ड्डष्.द्बठ्ठ है। इसी तरह नेशनल साइंस डिजिटल लाइब्रेरी भी है। इसकी वेबसाइट \क्रठ्ठह्यस्रद्य.ठ्ठद्बह्यष्शद्बह्म्.ह्म्द्गह्य.द्बठ्ठ है। इस वेबसाइट पर काम करने के लिए इंटरनेट की स्पीड अच्छी होनी चाहिए।

यहां बसता है बच्चों का संसार

इंटरनेशनल चिल्ड्रंस डिजिटल लाइब्रेरी की वेबसाइट पर बच्चों से संबंधित हजारों किताबें उपलब्ध हैं। इसमें 59 भाषाओं की 4,619 किताबें हैं। इस वेबसाइट के टॉप-10 रीडर्स में पहले स्थान पर अमेरिका और तीसरे स्थान पर भारत है। इसके पंजीकृत यूजर्स में 49,420 बड़े व 29,102 बच्चे हैं। इनमें 51,863 महिला व 26,669 पुरुष हैं। अंग्रेजी सहित 16 भाषाओं में किताबें यहां उपलब्ध हैं। यहां तीन से 13 सात तक के कैटेगरी वाइज किताबें, स्टोरी बुक, पिक्चर बुक आदि दी गई हैं।

1500 से 2007 तक की किताबें हैं यहां

यूनिवर्सल डिजिटल लाइब्रेरी की वेबसाइट पर पाठकों को वर्ष 1500 से साल 2007 तक की दुनियाभर की किताबें पढऩे के लिए हैं। इस वेबसाइट पर करीब 10 लाख किताबें हैं। इनमें 11,643 किताबें ङ्क्षहदी भाषा की भी हैं। इसमें ङ्क्षहदी, संस्कृत, अंग्रेजी सहित 12 भाषाओं की किताबें उपलब्ध हैं। इस वेबसाइट पर एस्ट्रोनॉमी, बायोलॉजी, केमिस्ट्री, एजुकेशन, इकोनॉमिक्स, इंजीनियङ्क्षरग, ज्योग्राफी, हेल्थ, हिस्ट्री, लॉ, गणित, म्यूजिक और धार्मिक किताबें उपलब्ध हैं। 

Posted By: Taruna Tayal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस