मेरठ, जागरण संवाददाता। शहर की एक महिला ने फेसबुक पर दोस्ती कर इंजीनियर को हनी ट्रैप में फंसा लिया। इसी बीच महिला ने अपने साथ उसकी फोटो खींच ली और फोटो इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर इंजीनियर को ब्लैकमेल कर छह लाख ठग लिए।

यह है मामला

जानी थानाक्षेत्र के एक गांव का युवक नोएडा में एक कंपनी में इंजीनियर है। डेढ़ साल पहले ब्रह्मपुरी क्षेत्र की एक महिला ने उसे फेसबुक पर रिक्वेस्ट भेजी। कुछ दिनों तक मैसेंजर पर बात करने के बाद उन्होंने एक-दूसरे का नंबर ले लिया। इसके बाद इंजीनियर का महिला के घर आना-जाना शुरू हो गया। आरोप है कि एक शादी समारोह में इंजीनियर को बुलाकर महिला ने उसके साथ फोटो ले ली। जिसे वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। इंजीनियर ने बताया कि वह महिला और उसके साथियों को साढ़े तीन लाख नगद और ढाई लाख रुपये पेटीएम के माध्यम से चुका है। बावजूद इसके उसे अब भी ब्लैकमेल किया जा रहा है। मंगलवार को इंजीनियर ने एसएसपी के फर्जी हस्ताक्षर से की गई शिकायत व अन्य साक्ष्यों के साथ एसएसपी कार्यालय में शिकायती पत्र दिया है। शिकायत सुन रहीं सीओ रूपाली राय ने साइबर सेल और थाना पुलिस को जांच कर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

तीन बदमाशों की लोकेशन दिल्ली-गाजियाबाद में मिली

मेरठ, जागरण संवाददाता। पेट्रोल पंप के दो मैनेजरों से हुई लूट में फरार चले रहे तीन बदमाशों की लोकेशन पुलिस को गाजियाबाद व दिल्ली में मिली है। इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की दो टीमें रवाना हो गई है। मोदीनगर निवासी योगेंद्र कुमार का कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र में दिल्ली-देहरादून हाईव पर पेट्रोल पंप है। 28 जून को पंप के दो मैनेजर संदीप और सुनील सात लाख रुपये बैंक में जमा करने के लिए कंकरखेड़ा थाने के पास स्थित पंजाब नेशनल बैंक में जा रहे थे। तभी यूवी क्लब के पीछे वाले रास्ते पर दो बाइकों पर सवार छह बदमाशों ने गन प्वाइंट पर उनसे सात लाख रुपये लूट लिए थे। पुलिस तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर उनसे तीन लाख रुपये बरामद कर चुकी है। रैकी करने वाले मोदीनगर निवासी सागर को पुलिस ने सोमवार को जेल भेजा है। अभी तीन बदमाश फरार है, जिनकी लोकेशन पुलिस को गाजियाबाद व दिल्ली में मिली है। इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि पुलिस टीमें जब गाजियाबाद व दिल्ली पहुंची तो बदमाशों ने अपने मोबाइल बंद कर दिए। जिसके कारण उनकी गिरफ्तारी में थोड़ा समय लग रहा है।

 

Edited By: Parveen Vashishta