बागपत, जेएनएन। बिनौली पुलिस चौकी से कुछ ही दूर मंडी बाइपास पर मंगलवार देर रात पुलिस की दो बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से फायरिंग में एक लाख का इनामी शातिर बदमाश ढेर हो गया, जबकि दूसरा पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। मारा गया बदमाश दिल्ली पुलिस के सिपाही की हत्या में वांछित था। मौके से कारबाइन व पिस्टल बरामद हुई है।

यह है मामला

कोतवाल अजय कुमार शर्मा ने बताया कि वह मंगलवार की देर रात पुलिस टीम के साथ बिनौली रोड पर चेकिंग कर रहे थे। उनके साथ दिल्ली पुलिस के एएसआइ आदेश भी थे। इसी दौरान उन्होंने वहां से गुजर रही सेंट्रो कार को रोकने का प्रयास किया, लेकिन कार सवार बदमाश पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागे। पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया। घायल बदमाश को पुलिस ने सीएससी में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बदमाश के पास से कारबाइन, पिस्टल और 50 कारतूस बरामद हुए हैं। कोतवाल अजय कुमार शर्मा और एएसआइ आदेश की बुलेटप्रूफ जैकेट में गोली धंस गई। वह बाल बाल बचे। मृतक बदमाश की शिनाख्त गाजियाबाद के लोनी निवासी जावेद के रूप में हुई। जावेद ने ही पिछले साल अक्टूबर माह में सिंघावली थाना क्षेत्र में दिल्ली पुलिस के सिपाही मनीष यादव की हत्या कर दी थी। मेरठ के जानी थाना क्षेत्र के डालूहेड़ा गांव निवासी मनीष दिल्ली से बाइक पर अपने घर लौट रहे थे। इस घटना में जावेद वांछित चल रहा था, जिसके बाद पुलिस ने उस पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया था।

Encounter In Baghpat: सिपाही मनीष की हत्‍या का पर्दाफाश, जावेद के कहने पर की थी लूट, विरोध किया तो मारी गोली

Edited By: Taruna Tayal