Move to Jagran APP

सावधान! अंधेरे में डूबा है यूपी का ये हाईवे, वाहन चालक की जरा सी नजर चूकी तो हो जाएगा बड़ा हादसा

दिल्ली-देहरादून हाईवे 58 अंधेरे की गिरफ्त में है। लंबे समय से काफी संख्या में लाइटें खराब हैं। कई स्थानों पर तो लाइट लगाने के लिए खंभे तक नहीं हैं। यहां रोज दुर्घटनाओं में लोग जान गंवा रहे हैं इसके बावजूद जिम्मेदार अधिकारी आंख बंद करके बैठे हैं। दून हाईवे-58 परतापुर तिराहे से मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहे तक 78.8 किलोमीटर लंबा है।

By Jagran News Edited By: Aysha Sheikh Published: Sun, 09 Jun 2024 11:33 AM (IST)Updated: Sun, 09 Jun 2024 11:33 AM (IST)
अंधेरे में डूबा है यूपी का ये हाईवे, वाहन चालक की जरा सी नजर चूकी तो हो जाएगा बड़ा हादसा

संजीव तोमर, मोदीपुरम। दिल्ली-देहरादून हाईवे 58 अंधेरे की गिरफ्त में है। लंबे समय से काफी संख्या में लाइटें खराब हैं। कई स्थानों पर तो लाइट लगाने के लिए खंभे तक नहीं हैं। यहां रोज दुर्घटनाओं में लोग जान गंवा रहे हैं, इसके बावजूद जिम्मेदार अधिकारी आंख बंद करके बैठे हैं। दून हाईवे-58 परतापुर तिराहे से मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहे तक 78.8 किलोमीटर लंबा है।

हाईवे पर टोल फीस के रूप में मोटी रकम तो वसूली जा रही है, लेकिन सुविधाएं सिर्फ कागजों में नजर आती हैं। टोल प्लाजा अधिकारियों की माने तो इस दूरी में हाईवे पर करीब तीन हजार से अधिक स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं। उनके इस दावे की सच्चाई जानने के लिए जागरण संवाददाता ने शनिवार को हाईवे की पड़ताल की। सफर के दौरान हर जगह सिर्फ लापरवाही दिखी।

हाईवे पर कई स्थान अंधेरे में डूबे थे। यहां चालक की नजर चूकते ही हादसा हो जाएगा। इसका ताजा उदाहरण शुक्रवार शाम दौराला क्षेत्र के गांव वलीदपुर के पास हुआ हादसा है। शनिवार को मौके पर जाकर देखा गया तो हालात पहले जैसे ही थे। यहां इतना अंधेरा था कि सड़क किनारे खड़ा वाहन दिखाई नहीं देगा। वलीदपुर गांव से दोनों तरफ करीब आधा किमी तक स्ट्रीट लाइट ही नहीं है।

कुछ आगे लाइट तो लगी थी, लेकिन वह खराब थी। पल्लवपुरम फेज-वन कट और एसडीएस ग्लोबल हास्पिटल के सामने, जिटौली फ्लाईओवर के पास आदि स्थानों पर स्ट्रीट लाइटें बंद पड़ी थी। इन स्थानों से गुजरने के दौरान सामने से आ रहे वाहन की हेडलाइट चालक की आंखों में पड़ने पर सामने कुछ नजर न आने के कारण हादसा होने का अंदेशा बना रहता है।

वलीदपुर के पास हुए हादसे में रोडवेज चालक पर केस दर्ज

वलीदपुर के पास दिल्ली-दून हाईवे पर शुक्रवार शाम रोडवेज बस में पीछे से कार घुसने से दो लोगों की मौत हो गई थी। मामले में शनिवार को मृतक दीपक गुप्ता के बेटे चिराग ने दौराला थाने में अज्ञात रोडवेज बस चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.