मेरठ,जेएनएन। दैनिक जागरण के स्वच्छ मेरठ स्वस्थ मेरठ अभियान के तहत गुरुवार को वार्ड 21 डिफेंस एन्क्लेव के सी पाकेट में विशेष सफाई कराई गई। इस दौरान नगर निगम अधिकारियों ने जनता की समस्याएं सुनीं। लोगों ने पार्क की बदहाली और उखड़ी सड़कों का दर्द बयां किया। अधिकारियों ने जल्द समाधान का आश्वासन दिया।

तलवार से काटी झाड़ियां, उठाया कचरा : विशेष सफाई अभियान की शुरुआत सुबह आठ बजे डिफेंस एन्क्लेव कंकरखेड़ा सी पाकेट पार्क के पास से हुई। सफाई एवं खाद्य निरीक्षक विपिन चौधरी के नेतृत्व में सफाई नायक राजेश व उनकी टीम ने तलवार से सड़क किनारे की बड़ी-बड़ी घास की कटाई की। नालियों की सिल्ट उठाई। घरों से कूड़ा गाड़ी ने कचरे का कलेक्शन किया। सड़क पर जगह-जगह पड़े कचरे के ढेर उठाए। सुबह 10 बजे सहायक नगर आयुक्त इंद्र विजय और नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. गजेंद्र सिंह अभियान में पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने सी पाकेट स्थित पार्क का निरीक्षण किया। पार्क में बीचोंबीच लगी स्ट्रीट लाइट का पोल गिरा मिला। बड़ी-बड़ी घास खड़ी मिली। पार्क के फुटपाथ पर झाड़ियां उगी मिलीं। कनेर की शाखाओं से पार्क के फुटपाथ ढके मिले। पार्क पूरी तरह से बदहाल मिला। इसके बाद सड़क व सीवर ओवरफ्लो की समस्या से रूबरू हुए। लोगों ने कहा कि एमडीए से कालोनी हस्तांतरित तो हो गई, लेकिन सीवर लाइन अभी भी एमडीए के पास है। सीवर ओवरफ्लो होने से घरों के सामने गंदगी का आलम है। एमडीए के अधिकारी सुनते नहीं है। लोगों ने कहा कि जब कालोनी की अन्य व्यवस्थाएं नगर निगम के पास हैं तो सीवर लाइन भी नगर निगम को सौंपी जाए।

-----

ये हैं प्रमुख समस्याएं

-डिफेंस एन्क्लेव सी पाकेट की सभी सड़कें उखड़ गई हैं।

-सीवर लाइन आए दिन ओवरफ्लो होती है। जिससे गंदगी व्याप्त है।

-स्ट्रीट लाइट भी अधिकांश जगह खराब पड़ी हैं।

-कूड़ा गाड़ी कभी-कभार आती है। सफाईकर्मी भी कम हैं।

-सी पाकेट पार्क में बड़ी-बड़ी घास से सांप-बिच्छू का डर है।

------

लोगों ने कहा कि..

-डिफेंस एन्क्लेव सी पाकेट उपेक्षा का शिकार है। नगर निगम न तो सड़क बनवा रहा है न ही नालियां। जलनिकासी की भी समस्या है।

आशीष कुमार।

----

-सी पाकेट में बड़ा पार्क है। झूले और ओपेन जिम भी है, लेकिन पूरा पार्क बदहाल पड़ा है। कोई देखरेख व सफाई नहीं होती है। सांप-बिच्छू के डर से लोगों ने जाना छोड़ दिया है।

ममता सिंह।

---

- सीवर लाइन ओवरफ्लो हो रही है। एमडीए अफसरों को कई बार सूचना दी गई, लेकिन सीवर सफाई करने कोई नहीं आया। सीवर लाइन नगर निगम को हैंडओवर नहीं हुई है।

वेद प्रकाश।

---

-मार्ग प्रकाश व्यवस्था ठीक नहीं है। रात में घर के बाहर निकलने पर डर लगता है। सड़कें भी खराब पड़ी हैं। सफाई नियमित नहीं होती है। नालियों में मिट्टी भरी हुई है।

रजनी शर्मा।

-------------

इन्होंने कहा--

पार्क की सफाई व घास की कटिग के लिए उद्यान प्रभारी को निर्देशित कर दिया है। सीवर सफाई के लिए एमडीए को पत्र लिखा गया है। जब सीवर हैंडओवर नहीं किया है तो कम से कम सफाई तो कराएं। अन्य समस्याएं भी जल्द दूर कराई जाएंगी।

-इंद्र विजय, सहायक नगर आयुक्त द्वितीय।

Edited By: Jagran