मेरठ, जेएनएन। फ्रेट कॉरिडोर के लिए भूमि अधिग्रहण में 19 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए पांचली गांव के दो किसानों ने राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग में शिकायत की है। इसपर आयोग ने प्रदेश के मुख्य सचिव और जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। चार महीने में भी रिपोर्ट न मिलने से नाराज आयोग ने तीन दिन में रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है।

भ्रष्टाचार का आरोप लगाया 

पांचली गांव के किसान हृदय और आदेश कुमार ने मार्च में राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को शिकायत भेजकर आरोप लगाया था कि गांव के खसरा संख्या 334 और 166 की भूमि का अधिग्रहण फ्रेट कॉरिडोर के लिए किया गया था। इस अधिग्रहण में उन्होंने 19 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। आयोग उपाध्यक्ष ने प्रदेश के मुख्य सचिव और जिला प्रशासन को सीधे ई-मेल भेजकर इस आरोप की जांच कराकर कार्रवाई करने और रिपोर्ट आयोग को भेजने का निर्देश दिया था।

इनका कहना है

यह प्रकरण हमारे आने से पूर्व का है लेकिन इस मामले की जांच हमने की है। अधिग्रहण सही है तथा नियमानुसार ही पात्र व्यक्तियों को मुआवजा वितरित किया गया है। इसकी रिपोर्ट भी आयोग और शासन को भेज दी गई है।

- सुल्तान अशरफ सिद्दीकी, एडीएम भूमि अध्याप्ति 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस