मेरठ, जेएनएन : जनपद में बदमाशों का बोलबाला है। आए दिन लूटपाट, डाका और हत्या हो रही है। बदमाश खाकी को ठेंगा दिखाकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। बढ़ते अपराधों से खौफजदा व्यापारियों ने शुक्रवार को पुलिस ऑफिस पर प्रदर्शन कर कप्तान को लगातार हो रही वारदातों को गिनाई और सख्त कार्रवाई की मांग की।

शुक्रवार को संयुक्त व्यापार संघ अध्यक्ष नवीन गुप्ता के नेतृत्व में व्यापारी पुलिस ऑफिस में कप्तान से मिले। जिले में बढ़ते अपराध पर रोष जताते हुए कार्रवाई की मांग की। वहीं कुछ दिनों में हुई लूटपाट की घटनाएं कप्तान को गिनाई, जिनमें बेगमबाग में नमकीन भंडार व्यापारी से हजारों की लूट, रेलवे रोड थाने के पास कारोबारी के घर में घुसकर बदमाशों ने जानलेवा हमला कर गहनों की लूट और टीपीनगर थाना में सुनवाई न होने पर व्यापारी ने खुद को आग लगाने की घटना बताई। इस दौरान संजय जैन, नीरज मित्तल, विजय आनंद, गौरव शर्मा, शर्मा, अमन गुप्ता, संदीप रेवड़ी, शैलेंद्र चौहान, विकास गिरधर, अनुज सिंघल आदि थे। एसएसपी अजय कुमार साहनी ने कहा कि पूर्व में जो घटनाएं हुई हैं, जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर राजफाश किया जाएगा। 49 दिन में 20 हत्या, 13 लूट और चार डकैती से थर्राया जनपद

मेरठ : जिले में अपराध का ग्राफ पिछले करीब दो महीने के भीतर तेजी से बढ़ा है। एक तरफ जहां योगी सरकार बदमाशों पर कहकर बनकर टूटकर कानून का राज स्थापित करने का पाठ पुलिस अफसरों को दे रही है, वहीं बदमाश खाकी को खुलेआम चुनौती देकर ताबड़तोड़ लूट, हत्या और डकैती जैसे जघन्य अपराध को अंजाम दे रहे हैं। अगर, मात्र बीते 49 दिनों में हुए अपराध पर नजर डाले तो वह यह बताने के लिए काफी है कि जिले में खाकी का नहीं बदमाशों का बोलबाला है। 49 दिनों में बदमाशों ने 20 हत्या, 13 लूट और चार डकैती की घटनाओं को अंजाम दिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस