मेरठ, जेएनएन। निजामुद्दीन मरकज से लौटे जमातियों की हरकत ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया। गाजियाबाद में नर्सो के साथ अश्लील हरकतें और चिकित्सकों के साथ बदतमीजी की घटना के बाद आइसोलेशन वार्ड को सीसीटीवी की निगरानी में रखा जाएगा। आइसोलेशन वार्ड में बदतमीजी करने पर आरोपित पर रासुका लगाई जाएगी।

सकते में है मेडिकल स्‍टाफ

गाजियाबाद की घटना के बाद से प्रदेशभर में जमातियों को लेकर मेडिकल स्टाफ सकते में है। एडीजी ने जोन में मेडिकल स्टाफ की सुरक्षा को लेकर कड़े दिशा निर्देश जारी किए हैं। अस्पताल या मेडिकल कॉलेजों में आइसोलेशन वार्ड के अंदर बदतमीजी करने वाले जमातियों पर रासुका के तहत कार्रवाई होगी। एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि गाजियाबाद के अस्पताल में हुई घटना शर्मसार करने वाली है। मुकदमा दर्ज कर निष्पक्ष विवेचना की जा रही है।

हरकतें हो जाएंगी कैद

ऐसी घटनाएं दोबारा न हो, इसके लिए सरकार पुख्ता इंतजाम करने जा रही है। सभी आइसोलेशन वार्डो में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे है, ताकि मरीज की हर हरकत को कैद किया जा सके। बदतमीजी करने वालों की हकीकत भी पता चल जाएगी। पुलिस विवेचना में बदतमीजी करने की पुष्टि होने पर रासुका में कार्रवाई की जाएगी। एडीजी ने यह भी कहा कि गाजियाबाद के अलावा अभी तक जोन के किसी भी जनपद में ऐसा कोई मामला नहीं आया है। गाजियाबाद की घटना के बाद धर्मगुरु भी जमातियों को ऐसे कृत्य पर नसीहत दे रहे हैं। भविष्य में उन्हें इस प्रकार की घटना नहीं करने की सलाह भी दी जा रही है।

भूड़बराल का एरिया सील

फलावदा में मिले चार कोरोना पॉजिटिव जमाती परतापुर क्षेत्र के भूड़बराल में भी रुके थे। इन्होंने मरकज की मस्जिद में नमाज अदा करने के बाद गांव निवासी रईस के घर में चाय पीने के बाद खाना भी खाया था। यह जानकारी संज्ञान में आते ही डब्ल्यूएचओ और पुलिस की संयुक्त टीम ने भूड़ बराल में मस्जिद के आसपास का पूरा क्षेत्र सील कर दिया है। यहां रहने वाले 20 परिवारों का सर्वे किया जाएगा। इस दौरान यह पता लगाया जाएगा कि जमाती यहां किस-किस के संपर्क में आए थे।

कितनों के संपर्क में आए थे, होगी जांच

शुक्रवार को डब्ल्यूएचओ और पुलिस की टीम भूड़बराल पहुंची। मरकज मस्जिद में लगे सीसीटीवी की डीवीआर पुलिस ने कब्जे में ले ली है। इंस्पेक्टर आनंद मिश्र ने बताया कि 20 मार्च को जमातियों के एक जत्थे ने दोपहर भूड़बराल मस्जिद में नमाज अदा की। करीब पांच घंटे रुकने के बाद यह जत्था वहां से निकल गया। अब इस बात की जांच की जा रही है कि यहां जमाती कितने लोगों के संपर्क में आए थे। पुलिस ने 20 परिवारों की सूची बनाई है। इनका सर्वे कराया जा रहा है। पुलिस को जानकारी मिली है कि उस समय मस्जिद में दो परिवार थे। उन्हें क्वारंटाइन करने की कवायद की जा रही है। जमातियों से मिलने वालों की जांच कर क्वारंटाइन किया जाएगा। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस